Coronavirus in Indore : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बुधवार देर रात इंदौर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 75 हो गई। बुधवार को 12 नए मरीज मिले हैं जिनमें से 8 गंभीर हैं। इसके साथ ही महामारी ने शहर के 6 नए इलाकों में दस्तक दे दी है। इससे चिंता और बढ़ गई है। बुधवार देर रात जारी रिपोर्ट के अनुसार तंजीम नगर के तीन पुरुष पॉजिटिव पाए गए हैं। एक दिन पहले इसी इलाके से एक ही परिवार के 9 सदस्य पॉजिटिव मिले थे। इसके अलावा चंदन नगर से 80 वर्षीय महिला पॉजिटिव पाई गई है। यह अब तक की सबसे उम्रदराज पॉजिटव महिला है। खजराना और स्नेहलतागंज से 38 वर्षीय पुरुष और 53 वर्षीय महिला पॉजिटिव पाई गई है।

छह नए इलाके : समाजवादी नगर से 50 वर्षीय पुरुष, उदापुरा से 50 वर्षीय पुरुष, इकबाल कॉलोनी से 54 वर्षीय पुरुष, अंबिकापुरी कॉलोनी (एयरपोर्ट रोड) से 45 वर्षीय पुरुष, सी स्पेशल गांधीनगर से 38 वर्षीय पुरुष और मोती तबेला से 54 वर्षीय पुरुष संक्रमित पाए गए हैं।

महामारी का जायजा लेने आएगा केंद्रीय दल

इंदौर में बढ़ते कोरोना मरीजों को लेकर केंद्रीय स्तर पर भी चिंता बढ़ती जा रही है। गुरुवार को नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (एनसीडीसी) की टीम इंदौर पहुंचेगी जो यहां कोरोना पॉजिटिव मरीजों को दिए जाने वाले इलाज के साथ ही व्यवस्थाओं का जायजा भी लेगी। सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जड़िया ने बताया कि टीम के पहुंचने के बाद ही अन्य जानकारियां मिल सकेंगी। वहीं एम्स भोपाल से भी टीम आएगी जो क्वारंटाइन और आइसोलेशन सेंटर की जानकारी लेगी। साथ ही डॉक्टर्स और स्टाफ को लेकर भी जानकारी जुटाई जाएगी। इंदौर में स्थिति को देखते हुए एपिडिमायोलॉजिस्ट की नियुक्ति भी हो गई है। डॉ. अनिल सिंह ने मुरैना से आकर चार्ज लिया।

मंडलेश्वर का मरीज भी आया था रानीपुरा

खरगोन जिले की महेश्वर तहसील के गांव धरगांव में कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति मिलने के बाद सील कर दिया गया। कलेक्टर गोपालचंद्र डाड ने गांव के आसपास तीन किमी क्षेत्र को क्वारंटाइन क्षेत्र घोषित कर दिया। धरगांव के 68 वर्षीय रेस्त्रां व्यापारी की रविवार रात इंदौर के एमवाय अस्पताल में मौत हो गई थी। ग्रामीणों के अनुसार व्यापाररी चिप्स की मशीन लेने इंदौर के रानीपुरा इलाके में गया था। व्यापारी को रविवार को इंदौर रेफर किया गया था। रात कोरोना की जांच के सैंपल लिए गए थे। रिपोर्ट मंगलवार देर शाम को आई। रिपोर्ट में पॉजिटिव पाया गया। सीएमएचओ डॉ. रजनी डावर के अनुसार गांव के सभी 850 घरों के लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है। मृतक के दो स्वजन सहित इलाज करने वाले डॉक्टर और कर्मचारियों को क्वारंटाइन कर उनके सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। ग्रामीणों के अनुसार 16 मार्च को रेस्त्रां व्यवसायी अपने बेटे के साथ इंदौर के रानीपुरा क्षेत्र में चिप्स बनाने की मशीन लेने गया था। व्यापारी के मृत्यु के बाद अंतिम संस्कार में परिवार के सिर्फ तीन सदस्य ही शामिल होकर स्वजन और ग्रामीणों ने जागरूकता का परिचय दिया लेकिन खरगोन जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग के लिए बड़ी चुनौती यह है कि मृत्यु से पूर्व 16 से 29 मार्च तक व्यापारी किन-किन लोगों के संपर्क में आया था। भगवानपुरा में इंदौर से अस्पताल से भागने की सूचना पर स्वास्थ्य टीम एक व्यापरी के घर पहुंची। संबंधित व्यक्ति को टीबी है। टीम उसकी निगरानी कर रही है।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना