मालवा-निमाड़ (हमारे प्रतिनिधि)। Coronavirus in Malwa Nimar इंदौर में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के लगातार सामने आने के बाद से आसपास के जिलों में सतर्कता बढ़ा दी गई है। लोगों और स्वास्थ्यकर्मियों की जांच कर आवश्यकता होने पर उन्हें क्वारंटाइन किया जा रहा है।

रामनवमी का त्योहार अंचल में लोगों ने घरों में ही पूजा-पाठ कर मनाया। खरगोन जिले के धरगांव में कोरोना के संक्रमण से एक बुजुर्ग की मौत की पुष्टि होने के बाद पूर्ण लॉकडाउन कर दिया गया है। धरगांव, महेश्वर व खरगोन में संक्रमित मरीज का इलाज करने वाले डॉक्टर, स्वास्थ्यकर्मी और अन्य लोगों की जांच कर उन्हें क्वारंटाइन किया जा रहा है।

समाजसेवी व धार्मिक संगठनों ने जरूरतमंदों को राशन और भोजन वितरित किया। रतलाम में सुबह 7 से 11 बजे तक जरूरी चीजों की दुकानें खुली रहीं। खरीदी के दौरान लोगों ने दूरी बनाए रखी। बाहर निकलने वाले लोगों के वाहनों के चालान बनाए गए। देवास में वाहन नहीं चलने दिए गए।

सोनकच्छ में चार और बरोठा में बाहर से आए एक संदिग्ध का परीक्षण किया गया। खंडवा में बांड ओवर की कार्रवाई खंडवा में लॉकडाउन का पालन नहीं करने वालों पर बांड ओवर की कार्रवाई की गई। 50 हजार से एक लाख रुपए तक के बाउंड भरवाए गए। कई वाहन जब्त कर लाइसेंस निरस्त किए गए। ड्रोन से कॉलोनियों का जायजा लिया गया। गलियों में भीड़ लगाने वालों को पुलिस ने खदेड़ा। झाबुआ में शुक्रवार तक तीन दिन का संपूर्ण लॉकडाउन है।

लोगों ने रामनवमी घरों में ही मनाई। जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती तीसरे संदिग्ध की रिपोर्ट भी निगेटिव आई है। यह गुजरात से आया था। आलीराजपुर जिले में पांच संदिग्ध सामने आए हैं। इन्हें जिला अस्पताल के आइसोलेशन सेंटर में रखा गया है। ये मरीज दो परिवारों के हैं।

बुरहानपुर जिले में पुलिस की निगरानी जारी है। निजामुद्दीन मरकज में शामिल होकर लौटे पांच लोगों को क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया है। शहर के वार्डों को भी सील कि या गया है। ड्रोन से निगरानी रखी जा रही है।

शाजापुर जिले में अब एक की बजाय दो दिन छोड़कर कि राना दुकानें खुल रही हैं। चौराहों पर पुलिसकर्मी तैनात रहे और बेवजह घूम रहे लोगों को समझाइश देकर घर भेजा गया।

धार जिले में ग्राम पंचायत स्तर पर बाहर से आने वाले लोगों की जानकारी रखी जा रही है। जिले में अब तक 21 नमूने लिए गए हैं। 13 की रिपोर्ट प्राप्त हो चुकी है, जो निगेटिव आई हैं। बाहर से आए सारे लोगों की एक बार फिर जांच मंदसौर में बाहर से आए लोगों की एक बार फिर से घर-घर जाकर जांच की जा रही है।

मंगलवार रात में हुई वृद्ध की मौत के मामले में जांच रिपोर्ट नहीं आई है। मामले में एक निजी चिकित्सालय के दो चिकित्सक भी क्वारंटाइन हुए हैं।

नीमच में लॉकडाउन के नियम तोड़ते लोगों पर सख्ती करने के लिए कलेक्टर जितेंद्र सिंह राजे ने नो व्हीकल जोन का आदेश दिया है। जिलेभर के मंदिरों में सादगी से राम जन्मोत्सव घरों में मनाया गया।क्वारंटाइन वार्ड में 28 लोग भर्ती हैं। मरकज जमात से लौटे 10 व्यक्तियों सहित 27 लोगों की रिपोर्ट आना शेष है।

उज्जैन में कोई नया मरीज नहीं

उज्जैन जिले में कोरोना संक्रमित कोई नया मरीज नहीं मिला है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार अब तक कुल 96 सैंपल भेजे गए हैं। इनमें से 77 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं छह पॉजिटिव में से दो की मौत हो चुकी है। चार का इलाज जारी है। बाकी रिपोर्ट आना शेष है। शहर में लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जा रहा है।

जारी है महाराष्ट्र सीमा से लोगों का आना

बड़वानी में महाराष्ट्र सीमा स्थित पलासनेर से लोगों के आने का क्रम लगातार जारी है। सेंधवा के समीप बनाए गए दो क्वारंटाइन सेंटरों में इन्हें रुकवाया जा रहा है। गुरुवार शाम तक 800 से अधिक लोगों को क्वारंटाइन सेंटर पहुंचाया गया है। यहां प्रशासन और समाजसेवियों द्वारा व्यवस्थाएं की जा रही है। यहां पहुंचे सेंधवा विधायक ग्यारसीलाल रावत ने गैरजिम्मेदाराना निर्देश अधिकारियों को दिए। विधायक ने कहा कि जिन लोगों के पास वाहन हैं, उन्हें यहां से रवाना करो। जबकि शासन द्वारा अन्य प्रदेशों से आए लोगों को सेंटर में रुकवाने के निर्देश हैं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना