Coronavirus Indore News: इंदौर। नईदुनिया प्रतिनिधि। कोरोना के गंभीर मरीजों की प्लाज्मा थैरेपी में कई निजी अस्पताल मनमानी कर रहे हैं। मरीज की प्लाज्मा थैरेपी के लिए कोई 18 हजार, कोई 20 हजार, कोई 22 तो कोई 25 हजार रुपये तक ले रहा है। प्रशासन ने इस मनमानी पर रोक लगाते हुए प्लाज्मा थैरेपी के लिए अधिकतम 11 हजार रुपये तय कर दिए हैं। सोमवार को रेसीडेंसी कोठी पर बुलाई गई बैठक में यह तय किया गया। निजी अस्पताल संचालकों से चर्चा के बाद दर का निर्धारण किया गया।

बैठक में प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट, संभागायुक्त डा. पवन शर्मा सहित कुछ प्रमुख निजी अस्पतालों के प्रतिनिधि मौजूद थे। बताया जाता है कि फिलहाल शहर में रोज करीब 30-40 प्लाज्मा थैरेपी हो रही है।

प्लाज्मा थैरेपी को लेकर संभागायुक्त ने चर्चा में बताया कि सरकारी अस्पताल में प्लाज्मा थैरेपी नि:शुल्क की जाती है। पर निजी अस्पताल इसका पैसा लेते हैं। यदि कोई मरीज निजी अस्पताल में प्लाज्मा थैरेपी कराना चाहता है तो हम एमजीएम मेडिकल कालेज से प्लाज्मा भी देते हैं, लेकिन इसका शुल्क 9500 रुपये में लिया जाता है। हम इस शुल्क को भी कम करने पर विचार कर रहे हैं। फिलहाल शासकीय अस्पतालों में जितना प्लाज्मा डोनेशन हो रहा है, वह सारा का सारा उपयोग हो रहा है। जब अधिक प्लाज्मा डोनेशन होगा तो प्लाज्मा बैंक भी बनाया जाएगा।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags