इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि), Covid Care Centre Indore। राधास्वामी सत्संग ब्यास में करीब 45 एकड़ में बन रहे कोविड केयर सेंटर में वैसे तो दो हजार बिस्तर का इंतजाम किया जा रहा है, लेकिन पहले चरण में 600 बिस्तर से शुरुआत हो रही है। संभावना है कि होम आइसोलेशन वाले 100 मरीजों को बुधवार से यहां लेना शुरू कर दिया जाएगा। कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि दक्षिण भारत की एक कंपनी यहां दो आक्सीजन प्लांट लगाने जा रही है। इन आक्सीजन प्लांटों की लागत करीब 2.50 करोड़ होगी। इन आक्सीजन प्लांटों से 900 लीटर प्रति घंटा आक्सीजन मिलेगी। इससे हर दिन करीब 100 मरीजों को आक्सीजन मिल सकेगी। परिसर में ऐसे संक्रमितों को रखा जाएगा जो होम आइसोलेशन में हैं और उनके पास जगह व सुविधाएं नहीं हैं। यहां गत्ते के बेड लगाए जा रहे हैं।

इंदौर में आसपास के इलाकों से ज्यादा मरीज आ रहे, आक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाई जाए

सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर के प्रमुख शहरों के चिकित्सकों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा की। इसमें मप्र से इंदौर के अरबिंदो मेडिकल कालेज व पीजी इंस्टीट्यूट के फाउंडर चेयरमैन डा. विनोद भंडारी भी शामिल हुए। चिकित्सकों से प्रधानमंत्री मोदी ने सुझाव मांगे। इसमें डा. देवी शेट्टी, डा. नरेश त्रेहान व अन्य चिकित्सकों ने कोविड के प्रभावी नियंत्रण के लिए अनेक सुझाव दिए। डा. विनोद भंडारी ने बताया कि पिछले वर्ष तक 40 प्रतिशत कोविड मरीजों को आक्सीजन की आवश्यकता होती थी जिसमें से 20 प्रतिशत अति गंभीर स्थिति में थे। वहीं वर्तमान में 60 प्रतिशत मरीजों को आक्सीजन की जरूरत लग रही है 35 प्रतिशत को आइसीयू की जरूरत पड़ रही है।

डा. भंडारी ने कहा कि इंदौर, भोपाल, जबलपुर व अन्य समीपस्थ शहरों में आइसीयू बिस्तरों की संख्या बढ़ाना जरूरी हो गया है। इंदौर में पूरे मालवा के अलावा दूरस्थ इलाकों से मरीज इलाज के लिए आ रहे हैं। ऐसे में इंदौर शहर को ज्यादा से ज्यादा आक्सीजन सप्लाई की जानी चाहिए। डा. भंडारी ने कहा कि मरीजों को होम क्वारंटाइन कर उपचार करने में डेंटिस्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, इंटर्न और अंतिम वर्ष के नर्सिंग, पेरामेडिकल विद्यार्थियों व अन्य सहयोगी स्टाफ की सहायता ली जाए। प्रधानमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग में शामिल हुए सभी चिकित्सकों से अपने सुझाव नीति आयोग के डा. वीके पाल को लिखित में देने के लिए कहा ताकि उसके आधार पर एक नीति तैयार की जा सके।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags