इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। ओएलएक्स पर सामान बेचने का झांसा देकर ठगी करने वाले गिरोह के सदस्य छठी व आठवीं पास निकले। राजस्थान का यह गिरोह देशभर में इसी तरह की वारदातों के लिए कुख्यात है। ठग खुद को आर्मी और सीआईएसएफ अधिकारी व कर्मचारी बताते हैं। वर्दी में पाक सीमा और एयरपोर्ट के फोटो भी भेज देते हैं। हैरानी की बात यह है कि कम पढ़े-लिखे ठग पढ़े-लिखों को निशाना बनाते हैं।

क्राइम ब्रांच एएसपी अमरेंद्र सिंह के मुताबिक, पुलिस ने 79 ठगोरों के विरुद्ध मिली शिकायतों की जांच की तो पता चला कि गिरोह भरतपुर (राजस्थान) के कोठाल, अलवर, जुरहटा, डीग, बोह, कामा से संचालित हो रहा है। आरोपित कम पढ़े-लिखे हैं। ओएलएक्स पर मोबाइल, दोपहिया वाहन, कार बेचने का विज्ञापन देते हैं। खुद का परिचय सैन्य अधिकारी व कर्मचारी के रूप में देते हैं।

सीआईएसएफ एयरपोर्ट और सीमा पर तैनाती

एएसपी के मुताबिक, जो आरोपित सीआईएसएफ अधिकारी बनते हैं वो एयरपोर्ट पर पोस्टिंग बताते हैं। वाट्सएप पर चेटिंग कर उन्हें सेल्फी तक भेज देते हैं। जो आरोपित सैन्यकर्मी बताते हैं वो सीमा पर पोस्टिंग बताकर पहाड़ी और जंगलों से सेल्फी भेजते हैं। जांच में खुलासा हुआ कि आरोपित हरियाणा, पंजाब, छग, पश्चिम बंगाल सहित अन्य राज्यों के खातों में रुपए जमा कराते हैं।

क्राइम ब्रांच ने इन आरोपितों को किया चिन्हित

राहिल खान, राशिद हुसैन, रुकमुद्दीन, फारुन खान, नस्सार खान, प्रवीण कुमार, नईद अहमद, जुबेर खान, अजय शर्मा, दीनू, कमलुद्दीन, नसरी, अरुण नागवानी, आरिफ, मुबारिक, शौकीन, रंजन बेहेरा, अंगुल, इलियास खान, नईद अहमद, उधमसिंह, धर्मेंद्र कुमार, असलम, कैलाश भगत, कैलाश चंद्र, पिंकी, मो.फैजल, राहिला, हरेंद्रसिंह, विक्रम, भगवानसिंह, रत्नेश सागर, गौरव कुमार, रुबी देवी, पुष्पा देवी, प्रदीपसिंह, युनूस मुल्ला, चौधरी अरविंद, मुजम्मिल खान, सुमित, आशु रजा, आदित्य गुप्ता सहित 79 आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज किया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020