कपिल नीले, इंदौर DAVV Results Corrupted। देवी अहिल्या विश्वविद्यालय (देअवीवी) के सर्वर का सॉफ्टवेयर बिगड़ गया है। तकनीकी खराबी से रिजल्ट जारी करने का काम रूका हुआ है। लाकडाउन के बाद से महज एक रिजल्ट घोषित हुआ है। यहां तक कई परीक्षा के तैयार रिजल्ट का डाटा करप्ट हो चुका है। इसके चलते डेढ़ दर्जन कोर्स के रिजल्ट दोबारा से अपलोड करने की प्रक्रिया चल रही है। फिलहाल अधिकारियों ने सप्ताहभर में स्थिति सामान्य होने की बात कहीं है। वहीं सॉफ्टवेयर को अपडेट करने का काम चल रहा है।

फरवरी-मार्च में विश्वविद्यालय ने कई परीक्षाएं करवाई थी, जिसमें बीएड-एमएड, बीपीएड-एमपीएड, एलएलबी, बीएएलएलबी, बीकामएलएलबी, एलएलएम सहित अन्य कोर्स की आनलाइन और ओपन बुक पद्धति से परीक्षा करवाई। इनकी कापियां जांचकर मूल्यांकनकर्ताओं ने मार्क्स भी विश्वविद्यालय को भेज दिए थे। कुछ कोर्स की परीक्षा के मार्क्स विश्वविद्यालय ने रिजल्ट से जुड़े सॉफ्टवेयर में चढ़ाने का काम किया। इस बीच विश्वविद्यालय ने नौ अप्रैल को 15 से ज्यादा कोर्स के रिजल्ट जारी कर दिए। मगर अप्रैल दूसरे सप्ताह में संक्रमण को रोकने के लिए लाकडाउन लगा दिया।

विश्वविद्यालय बंद होने से काम को बीच में रोक दिया। एक जून को अनलाक के बाद रिजल्ट की प्रक्रिया फिर शुरू की, लेकिन डेढ़ महीने तक सर्वर पूरी तरह बंद रहा। तीन जून को आइटी व कम्प्यूटर सेंटर ने सर्वर में खराबी बताई। आइटी विशेषज्ञों ने सर्वर और साफ्टवेयर से जुड़ी समस्या बताई। सूत्रों के मुताबिक तैयार रिजल्ट के मार्क्स को साफ्टवेयर में नजर नहीं आए। गड़बड़ी की वजह से रिजल्ट से जुड़ा डाटा करप्ट हो गया। फिर अधिकारियों के हाथ-पैर फूलने लगे। आनन-फानन में मार्क्स साफ्टवेयर में चढ़ाने का काम दोबारा शुरू करने के निर्देश दिए। मगर विशेषज्ञों ने सॉफ्टवेयर अपडेट करने की सलाह दी है।

इन दिनों आइटी विशेषज्ञ सर्वर और साफ्टवेयर का मेंटेनेंस करने में जुटे है। बताया जाता है कि डाटा करप्ट होने से बीएड-एमएड, बीपीएड-एमपीएड सेकंड सेमेस्टर, एलएलबी, बीएलएलएबी, एलएलएम के विभिन्न सेमेस्टर रिजल्ट लेट हो गए है। मूल्यांकन केंद्र के अधिकारियों के मुताबिक रिजल्ट अप्रैल में भी भेज दिए थे। उधर नौ अप्रैल के बाद सात जून को मात्र बीबीए फॉरेंन ट्रेड का रिजल्ट घोषित हुआ है।

सप्ताहभर में बनाएंगे व्यवस्था

लॉ कोर्स का रिजल्ट लेट होने से विद्यार्थी काफी परेशान है। कई छात्र-छात्राओं पीजी में दाखिला लेना है। इसके लिए वे अपने-अपने रिजल्ट का बेसब्री से इंतजार करने में लगे है। अधिकारियों के मुताबिक मार्क्स को जल्द ही साफ्टवेयर में चढ़ाया जाएगा। सप्ताहभर का समय लग सकता है। परीक्षा नियंत्रक डा. अशेष तिवारी का कहना है कि लाकडाउन में काम बंद रहने से सर्वर और साफ्टवेयर में तकनीकी गड़बड़ी आई है। अब साफ्टवेयर को अपडेट किया जा रहा है। साथ ही विद्यार्थियों के मार्क्स को दोबारा साफ्टवेयर में फीड किया जाएगा। सप्ताहभर में रिजल्ट की व्यवस्था सामान्य हो सकेगी।

Posted By: Sameer Deshpande

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags