DAVV CET 2020 : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। यूजी और पीजी कोर्स की परीक्षाओं में जनरल प्रमोशन किए जाने का रास्ता साफ होने के बाद अब देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की प्रवेश परीक्षा सीईटी पर संशय बन गया है। कोरोना संक्रमण के डर से कांग्रेसियों ने गुरुवार को परीक्षा रद करने का मुद्दा उठाया है। उन्होंने कुलपति के सामने सीईटी की कमेटी को भंग करने की मांग की। जल्द ही विश्वविद्यालय प्रशासन इस मामले के लिए बैठक बुला सकता है। गुरुवार को कांग्रेस नेता जयप्रकाश राणे ने कुलपति डॉ. रेणु जैन को ज्ञापन सौंपा। कांग्रेस का कहना है कि ऑल इंडिया स्तर पर होने वाली सीईटी 22 शहरों में आयोजित होती है। संक्रमण काल में परीक्षा करवाने से कई विद्यार्थियों के संक्रमित होने का खतरा रहेगा। कुलपति डॉ. रेणु जैन का कहना है कि सीईटी पर जल्द ही बैठक बुलाकर फैसला लिया जाएगा।

अब दाखिले पर रहेगा जोर

जनरल प्रमोशन दिए जाने के बाद अब उच्च शिक्षा विभाग और देवी अहिल्या विश्वविद्यालय दाखिले पर जोर दे रहे है। एमपी बोर्ड की 12वीं की परीक्षा हो चुकी है। जुलाई आखिरी सप्ताह तक रिजल्ट आ सकता है। सीबीएसई की 12वीं की परीक्षा के बाकी पेपर नहीं होने का फैसला भी आ गया है। अब अगले सत्र के लिए दाखिले की प्रक्रिया शुरू हो सकती है। माना जा रहा है कि अगस्त दूसरे सप्ताह से ऑनलाइन आवेदन बनाए जा सकते हैं। कोरोना के चलते जब कॉलेजों की परीक्षाएं नहीं हो पाई तो सीईटी कैसे कराई जाएगी इस पर बैठक में विचार किया जा सकता है या फिर एडमिशन का कोई दूसरा तरीका सोचा जा सकता है।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना