DAVV Indore : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। यूजी-पीजी कोर्स में जनरल प्रमोशन दिए जाने को लेकर हरी झंडी मिलने के बाद अब देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की चिंता बढ़ गई है। कारण यह है कि अब तीन लाख से ज्यादा विद्यार्थियों का आकलन कर उनके पुराने परीक्षा परिणामों की समीक्षा के आधार पर नया रिजल्ट जारी करना है। ऐसे में काम बांटने के लिए विश्वविद्यालय ने बीच का रास्ता निकाला है। अधिकारियों के मुताबिक प्रत्येक कॉलेज को उनके यहां पढ़ने वाले विद्यार्थियों का आकलन करना होगा। फिलहाल विश्वविद्यालय उच्च शिक्षा विभाग की गाइडलाइन का इंतजार कर रहा है।

कॉलेजों को विद्यार्थियों के पुराने परीक्षा परिणाम, प्रैक्टिकल परीक्षा, इंटरनल के नंबरों का आकलन कर वर्तमान रिजल्ट बनाना है। हालांकि उच्च शिक्षा विभाग से गाइडलाइन आने के बाद रिजल्ट संबंधी फॉर्मूला पता लग सकेगा, लेकिन विश्वविद्यालय प्रशासन ने रिजल्ट को लेकर तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसे लेकर कुलपति डॉ. रेणु जैन, परीक्षा नियंत्रक डॉ. अशेष तिवारी, परीक्षा विभाग के डिप्टी रजिस्ट्रार प्रज्ज्वल खरे, डिप्टी रजिस्ट्रार रचना ठाकुर, मूल्यांकन केंद्र प्रभारी डॉ. राजेंद्र सिंह के बीच चर्चा हुई। इसमें विद्यार्थियों के आकलन करने में निजी-सरकारी कॉलेजों की मदद लेने पर सहमति बनी। यूजी-पीजी कोर्स में करीब साढ़े तीन लाख विद्यार्थी हैं। यह पूरी प्रक्रिया डेढ़-दो महीने में पूरी करनी होगी। अधिकारियों के मुताबिक पहले फाइनल ईयर के विद्यार्थियों के रिजल्ट की प्रक्रिया शुरू होगी। कॉलेजों को नंबर विश्वविद्यालय में भेजना होगा। रिजल्ट बनने के बाद प्रवेश प्रक्रिया शुरू होगी।

एटीकेटी पर असमंजस

एक तरफ जहां पुराने रिजल्ट के आधार पर जनरल प्रमोशन दिया जाएगा, वहीं विश्वविद्यालय के सामने एटीकेटी के छात्रों को लेकर असमंजस है। ऐसे कई विद्यार्थी हैं, ऐसे में इनका रिजल्ट बनाना थोड़ा मुश्किल दिख रहा है। अधिकारियों को भी एटीकेटी वाले विद्यार्थियों के जनरल प्रमोशन देने को लेकर असमंजस बना है।

यूजी-पीजी कोर्स में विद्यार्थियों की संख्या अधिक है। ऐसे में एक-एक विद्यार्थी का रिजल्ट विश्वविद्यालय को बनाना थोड़ा मुश्किल है, इसलिए कॉलेजों को जिम्मेदारी देंगे। इससे रिजल्ट की प्रक्रिया समय पर पूरी हो सकेगी। - डॉ. अशेष तिवारी, परीक्षा नियंत्रक, देवी अहिल्या विश्वविद्यालय

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना