DAVV Indore : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना की वजह दो साल बाद पीएचडी में प्रवेश के लिए हुई डाक्टरल एंट्रेंस टेस्ट (डीईटी) का रिजल्ट देवी अहिल्या विश्वविद्यालय ने गुरुवार शाम जारी कर दिया। प्रश्न पत्र कठिन होने से सिर्फ 19.4 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल हुए हैं। पिछली परीक्षा की तुलना में इस बार चार से पांच प्रतिशत रिजल्ट कम रहा है। वैसे सबसे अधिक प्रबंधन में 251 और वाणिज्य में 89 उम्मीदवार चयनित हुए हैं। विश्वविद्यालय ने परीक्षार्थियों का स्कोर कार्ड भी पोर्टल पर अपलोड कर दिया है।

44 विषयों में पीएचडी के लिए विश्वविद्यालय ने डीईटी 19 अप्रैल को करवाई थी। 1217 सीटों के लिए 4590 परीक्षार्थी शामिल हुए थे। विश्वविद्यालय ने 40 दिन बाद रिजल्ट घोषित किया है। सिर्फ 890 उम्मीदवार चयनित हुए हैं। इसमें प्रबंधन (251), वाणिज्य (89), अर्थशास्त्र (13), शिक्षा (12), अंग्रेजी (32), हिन्दी (43), राजनीति शास्त्र (31), कंप्यूटर साइंस (29), इतिहास (61), सोशलाजी (38) सहित 34 विषयों में परीक्षार्थी चयनित हुए हैं। डीईटी प्रभारी डा. अभय कुमार के मुताबिक प्रश्न पत्रों पर आपत्ति का समाधान करने के बाद रिजल्ट घोषित किया है। 50 अंक प्राप्त करने वाले परीक्षार्थी सफल हुए हैं। सभी परीक्षार्थियों के स्कोर कार्ड पोर्टल पर अपलोड कर दिए गए हैं।

अधिकांश को मिलेगी सीटें - सीटों की तुलना में परीक्षार्थी की संख्या काफी कम है। 1215 सीटों पर 890 परीक्षार्थी चयनित हुए हैं। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि सभी चयनित परीक्षार्थियों को पीएचडी में प्रवेश मिलेगा। अगले सप्ताह विश्वविद्यालय कोर्स वर्क का शेड्यूल जारी करेगा। अधिकारियों के मुताबिक जुलाई से कक्षाएं लगाई जाएंगी।

300 जेआरएफ उम्मीदवार - परीक्षा में 6270 उम्मीदवारों ने आवेदन किया था, जिसमें जूनियर रिसर्च फैलोशिप (जेआरएफ) वाले 300 आवेदक शामिल थे। इन्हें परीक्षा से छूट दी गई थी। इन्हें कोर्स वर्क के बाद सीट आवंटित की जाएगी।

दिसंबर में परीक्षा - पीएचडी की 150 शेष सीटों को लेकर विश्वविद्यालय ने दिसंबर में डीईटी का दूसरा चरण करवाने का फैसला लिया है। इसके बारे में सितंबर से प्रक्रिया शुरू की जाएगी। रिजल्ट जारी करने के बाद विश्वविद्यालय ने दिसंबर के दूसरे सप्ताह में परीक्षा करवाने पर जोर दिया है।

विषयवार सीटें - मैनेजमेंट में 334, कॉमर्स में 234, बॉटनी में 39, केमिस्ट्री में 10, कंप्यूटर साइंस में 23, शिक्षा में 40, इकोनामिक्स में 29, हिंदी में 37, फिजिक्स में 50, जूलाजी में 81, फार्मेसी में 11, इलेक्ट्रानिक्स एंड इंस्ट्रूमेंटेशन में 2, हिस्ट्री में 3, मिलिट्री साइंस में 2, स्टैटिक्स में 4, इलेक्ट्रानिक्स में 3 सीटें।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close