इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बख्तावरराम नगर निवासी नमक कारोबारी का शुक्रवार रात शिप्रा थाना क्षेत्र में शव मिला। उनके कान के पास से खून निकल रहा था। सिर-पीठ और पसलियों में भी चोट लगी थी। वे सुबह की सैर पर निकले थे। स्वजन का आरोप है हत्या हुई है। कुछ लोगों से करोड़ों रुपये कीमती जमीन को लेकर विवाद चल रहा था।

पुलिस के मुताबिक श्याम राव पुत्र मुन्नालाल इंचुलकर निवासी सनसाइन अपार्टमेंट बख्तावरराम नगर नमक का व्यवसाय करते थे। भजीते संतोष राव के मुताबिक काका ने महूगांव में पुश्तैनी जमीन पर डेढ़ करोड़ रुपये लगाकर मंदिर बनवाया था। लेकिन कुछ लोग पंचायत और तहसील कार्यालय में शिकायत कर मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रहे थे। संतोष ने मनोज उर्फ चीकू, नवीन इंसुलकर, रवि इंसुलकर, दीपर इंचुलकर, सुरेश बाबा चिस्ती, माधवराव, मनीष सहित 11 लोगों पर हत्या का आरोप लगाया है। श्याम के मुताबिक काका रोजना सुबह की सैर पर जाते थे लेकिन थोड़ी देर बाद लौट आते थे। बाहर जाने के लिए स्वयं के दोपहिया वाहन का उपयोग करते थे। लेकिन शुक्रवार को वे मांगलिया कैसे पहुंच गए, यह जांच का विषय है। उन्हें तो रात में 108 एम्बुलेंस से खबर मिली और सीधे एमवाय अस्पताल पहुंचे।

चेन लूट के आरोपित ने की खुदकुशी

श्रीनाथ विहार कालोनी निवासी 31 वर्षीय पवन चौहान ने शुक्रवार रात फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पवन पर लूट और चोरी के दस से ज्यादा केस दर्ज हैं। शुक्रवार को उसके पिता ओमप्रकाश को अन्नपूर्णा पुलिस ने पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था। उस वक्त पवन सारंगपुर चला गया था। शाम को लौटने के बाद पुलिस के दबाव में फांसी लगा ली। एएसआइ नरेंद्र रघुवंशी के मुताबिक पवन पर लूट और चोरी के कई देस दर्ज थे।

गुंडे की पत्थर से कुचलकर हत्या

इंदौर। शिप्रा थाना क्षेत्र में शुक्रवार रात कमल पुत्र भेरूलाल चौहान निवासी अर्जुन बड़ौदा की अज्ञात बदमाशों ने सिर पर पत्थर से हमला कर हत्या कर दी। कमल पर आठ से ज्यादा अपराध पंजीबद्ध थे और फिलहाल वह पंक्चर की दुकान चला रहा था।

महिला की संदिग्ध मौत, शव से मंगलसूत्र गायब

इंदौर। बाणगंगा थाना क्षेत्र स्थित बरदरी निवासी 26 वर्षीय छाया की शुक्रवार रात संदिग्ध परिस्थित में मौत हो गई।स्वजन ने एमवाय की मर्च्यूरी से छाया के शव से मंगलसूत्र गायब करने का आरोप लगाया है। एसआइ राजेश साहनी के मुताबिक छाया के पति नीतेश ने पुलिस को बताया कि रात को घबराहट होने के कारण पत्नी को एमवाय अस्पताल लेकर आया था लेकिन उपचार के दौरान मौत हो गई। रात को शव पीएम के लिख सुरक्षित रखवाया तब गले में मंगलसूत्र भी था। सुबह पीएम के लिए पंचनामा बनाया तो चांदी के आभूषण थे लेकिन सोने का मंगलसूत्र गायब था।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close