इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शरीर और मन दोनों की तंदुरुस्ती के लिए जरूरी है कि शरीर के विषैले तत्व बाहर निकल जाएं। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना जरूरी है। पानी में यदि कुछ आवश्यक घटक भी शामिल कर लिए जाएं तो उसे और भी प्रभावी बनाया जा सकता है। पानी में ताजे फल, सब्जी और औषधि डालकर उसे और भी कारगर बनाया जा सकता है। पानी में इनके दो-चार टुकड़े डालकर आठ से 10 घंटे के लिए रख दें और बाद में यह पानी पिएं। यह पानी शरीर के विषैले तत्वों को तो बाहर निकालने में मददगार होता ही है। साथ ही शरीर में पानी की कमी भी नहीं होने देता। डिटॉक्स वॉटर से शरीर में गर्मी नहीं बढ़ती और न ही जलन होती है। यह रक्त में शर्करा की मात्रा को भी नियंत्रित करता है और चयापचय को बेहतर बनाता है। इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी रहती है। वजन घटाने में भी यह मददगार है तथा पीएच स्तर को भी यह संतुलित रखता है। यह भी भीतरी स्वास्थ्य ही नहीं बल्कि बाहरी रूप को भी निखारता है। इससे त्वचा तंदुरुस्त रहती है। जरूरी है कि इसे सही संतुलन में बनाया जाए। खीरा ककड़ी के साथ पुदीना, नींबू के साथ अदरक, सेवफल के साथ दालचीनी, तरबूज के साथ पुदीना से डिटॉक्स वॉटर तैयार करें। इन संतुलन को ठंडे या गर्म पानी में आठ-दस घंटे के लिए डाल दें और उसके बाद ही इस पानी को पिएं। इसे सही मात्रा और सही संतुलन में पीना चाहिए अन्यथा इसके नकारात्मक प्रभाव भी हो सकते हैं।

शिखा जैन, आहार व पोषण विशेषज्ञ

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस