जिन्हें मधुमेह है, उन पर कोरोना संक्रमण का प्रभाव ज्यादा पड़ता है। कोरोना के उपचार के लिए दी जाने वाली दवाओं का नकारात्मक प्रभाव भी पड़ता है कि जो मधुमेह से प्रभावित नहीं हैं, उनका भी रक्त शर्करा स्तर बढ़ सकता है। इसलिए जरूरी है कि कोरोना से पहले, कोरोना के दौरान और कोरोना के बाद भी रक्त शर्करा स्तर को नियंत्रित रखा जाए। इसमें मैथीदाना बहुत कारगर साबित होता है।

कोरोना से आंतरिक अंगों में सूजन आ जाती है और रक्त के थक्के जमने से समस्या और भी बढ़ जाती है। मैथीदाना रक्त के थक्के जमने की क्रिया को भी कम करता है। औषधीय गुणों से भरे मैथीदाने पेट साफ करते हैं और गैस की समस्या से भी निजात दिलाते हैं। यह रक्त शर्करा को भी कम करते हैं। सामान्य व्यक्ति प्रतिदिन सुबह खाली पेट 1 चम्मच मैथीदाना पाउडर गुनगुने पानी से और मधुमेह के मरीज दिन में तीन बार खाने से पहले 1-1 चम्मच मैथीदाना पाउडर गुनगुने पानी से ले सकते हैं। एक व्यक्ति एक दिन में 30 से 50 ग्राम मैथीदाना प्रतिदिन खा सकता है। मैथीदाने में प्रोटीन, रेशे, लौह तत्व, मैग्नीज, मैग्नेशियम भरपूर मात्रा में होता है। जबकि इसमें फैट, कार्बोहाइड्रेट और कैलोरी कम मात्रा में होती है। यह कोलेस्ट्रॉल को भी कम करता है। एसिडिटी को कम करने में भी यह सहायक होता है। इसलिए इसका सेवन लाभकारी होता है। पाउडर के रूप में खाना सबसे बेहतर होता है। इसे सब्जी आदि के रूप में भी खाना फायदेमंद होता है।

-डॉ. मुनीरा हुसैन

आहार एवं पोषण विशेषज्ञ

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस