इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। निजी अस्पताल में डाक्टर नेहा निशाद ने सोमवार को जहर खाकर आत्महत्या कर ली। डाक्टर ने जान देने के पहले एक सुसाइड नोट भी लिखा था। आजाद नगर थाना पुलिस ने मर्ग कायम कर मामला जांच में लिया है। मंगलवार को पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजनों को सौंप दिया।

स्वजनों ने बताया कि नेहा भिंड से बीएचएमएस की पढ़ाई कर रही थी। डेढ़ साल से वह अस्पताल में नौकरी भी कर रही है।बड़ी बहन किरण ने बताया कि नेहा उससे छोटी है, नेहा से छोटी एक बहन और है। शाम को अचानक उल्टी होने लगी, जब छोटी बहन ने देखा तो किरण को फोन कर बताया कि नेहा की तबियत बिगड़ गई है।

नेहा को लेकर अस्पताल पहुंचे लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। सुसाइड नोट में उसने लिखा है कि वह जिंदगी से तंग आ गई हूं और अब जीना नहीं चाहती। इसलिए खुद की मर्जी से आत्महत्या कर रही हूं। पुलिस ने सुसाइड नोट जब्त कर, जांच में लिया है।

सोना-चांदी के जेवर व रुपये चोरी करके ले गए बदमाश

राम कृष्ण बाग कालोनी निवासी 34 वर्षीय सुनील पुत्र कैलाश दातिर ने खजराना थाने में चोरी का केस दर्ज कराया है। पुलिस ने बताया कि वे परिवार सहित घर से बाहर गए थे। देर रात बदमाशों ने इसका फायदा उठाया और दरवाजे का ताला तोड़कर अलमारी में रखे सोने-चांदी के जेवर और रुपये चोरी करके ले गए।पुलिस को शिकायत कर मंगलवार को केस दर्ज कराया है। पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local