इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। एमजीएम मेडिकल कालेज के 2016 बैच के डा.तनिष्क गुजराती ने आल इंडिया नीट पीजी परीक्षा में देश में छठा स्थान हासिल किया है। चिकित्सा जगत में इस परीक्षा को सबसे मुश्किल परीक्षाओं में से एक माना जाता है। देश भर से ढाई लाख से ज्यादा डाक्टर इस परीक्षा में शामिल होते हैं। डा.गुजराती को 800 में से 691 अंक मिले हैं। 30 जून को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. मनसुख मांडविया ने नीट पीजी के टापरों को अपने निवास पर रात्रिभोज के लिए आमंत्रित किया है। इसमें डा.गुजराती को सम्मानित किया जाएगा।

नईदुनिया से चर्चा में डा. गुजराती ने बताया कि वे मूल रूप से धार जिले की बदनावर तहसील के ग्राम कानवन के रहने वाले हैं। 2016 में उन्होंने एमजीएम मेडिकल कालेज में प्रवेश लिया था। एमबीबीएस की पढ़ाई के साथ ही उन्होंने पीजी नीट की तैयारी शुरू कर दी थी। डा.गुजराती ने बताया कि वे पीजीआइ चंड़ीगढ़ से सर्जरी में एमएस करेंगे। उनके परिवार में वे पहले डाक्टर हैं।

130 में से 46 परीक्षार्थी को मिल जाएगी क्लीनिकल ब्रांच

एमजीएम मेडिकल कालेज के डीन डा.संजय दीक्षित ने बताया कि इस वर्ष नीट पीजी में कालेज के 130 विद्यार्थी शामिल हुए थे। इनमें से 46 ने सफलता हासिल की है। इन सभी को क्लीनिकल ब्रांच में आसानी से प्रवेश मिल जाएगा। कालेज की डा. साक्षी बजाज के राष्ट्रीय स्तर पर 94वीं रैंक और डा.आनंद कोठारी ने 119वीं, डा.साक्षी कुमारी ने 408 वीं, डा. नैना गर्ग ने 609 वीं, डा. समीक्षा जैन ने 841वीं रैंक हासिल की है। इसके अलावा भी कालेज के कई विद्यार्थी सफल हुए हैं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close