इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शिक्षा सत्र देर से शुरू होने के चलते अब परीक्षाओं पर असर पड़ने लगा है। स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम के पहले सेमेस्टर की परीक्षाएं पिछड़ गई है। जनवरी में होने वाली परीक्षा अब फरवरी अंतिम सप्ताह में करवाई जाएगी। इसके लिए देवी अहिल्या विश्वविद्यालय (डीएवीवी) ने शनिवार को बैठक बुलाई है। जहां टाइम टेबल जारी किया जाएगा। साथ ही परीक्षा केंद्र बनाए जाएंगे। हालांकि विद्यार्थियों से परीक्षा फार्म भरवाए जा रहे है।

एमए, एमकाम, एमएससी सहित अन्य पीजी कोर्स की तीसरे सेमेस्टर की परीक्षा भले जनवरी में शुरू हो चुकी हो, लेकिन अभी तक पहले सेमेस्टर की परीक्षा की तारीख और टाइम टेबल नहीं बना है। यह स्थिति सत्र 2021-22 देरी से शुरू होने के चलते बनी है। कोरोना की वजह से प्रवेश प्रक्रिया नवंबर तक चली। इसे विद्यार्थियों के पहले सेमेस्टर की कक्षाएं दिसंबर से लगाई गई। उच्च शिक्षा विभाग ने कालेजों को जनवरी तक सिलेबस पूरा करने के निर्देश दिए थे। वहीं इन दिनों विश्वविद्यालय इन छात्र-छात्राओं का नामांकन करवाने की प्रक्रिया में लगा है।

परीक्षा नियंत्रक डा. अशेष तिवारी ने कहा कि पीजी पहले सेमेस्टर को लेकर बैठक बुलाई, जिसमें सिलेबस, नामांकन और परीक्षा से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। वे बताते है कि संभवत: परीक्षा फरवरी अंतिम सप्ताह से शुरू होगी। टाइम टेबल भी पांच फरवरी तक जारी किया जाएगा। उन्होंने बताया कि परीक्षा देने वाले करीब बीस हजार विद्यार्थियों के लिए 70-80 केंद्र बनाए जाएंगे। जहां पर कोरोना प्रोटोकाल का पूरा ध्यान रखा जाएगा। हालांकि इन दिनों विद्यार्थियों से परीक्षा को लेकर फार्म भरवाए जा रहे है।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local