Durga Puja 2022 : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शारदीय नवरात्र की षष्ठी तिथि पर शनिवार को बंगाली समाज की पांच दिनी दुर्गा पूजा की शुरुआत हुई। इस अवसर पर बेल के पेड़ के नीचे सुबह कल्पारंभ और षष्ठी बिहित पूजा की गई। इसके बाद संध्याकालीन सत्र में देवी बोधन, आमंत्रण और अधिवास हुआ। महिलाओं ने शंख ध्वनि कर ससुराल से मायके आई माता का स्वागत किया। घट स्थापना कर माता की आराधना हुई। अब सप्तमी, अष्टमी, नवमी के दिन विशेष आराधना और धुनुची नृत्य होगा।

बंगाली क्लब नौलखा की दुर्गा पूजा कमेटी के अध्यक्ष रंजन डे सरकार और अबुंज दत्ता ने बताया कि बंगाली कारीगरों द्वारा बनाई गई 15 फीट ऊंची मां दुर्गा की मूर्ति स्थापित की गई है। सप्तमी पर 2 अक्टूबर को सुबह 11 बजे पुष्पांजलि, 11.30 बजे प्रसाद वितरण, दोपहर 1.30 बजे भोग वितरण होगा। शाम 7.30 बजे आरती और धुनुची नृत्य के बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। 3 अक्टूबर को महाअष्टमी और 4 अक्टूबर को नवमी के दिन शाम 7.30 बजे आरती और धुनुची नृत्य होगा। दशमी के दिन 5 अक्टूबर को सिंदूर उत्सव सुबह 10 बजे होगा। इसी के साथ नवरात्र महोत्सव का समापन होगा।

देवी यज्ञ में 501 सफाई कर्मचारी बहनों का सम्मान

इंदौर। दि आर्ट आफ लिविंग द्वारा आयोजित तीन दिवसीय देवी यज्ञ में रविवार को सुबह 8.30 से दोपहर 12 बजे तक रुद्र होम और शाम 6 बजे चंडी कलश स्थापना और चंडी पारायण होगा। इसमें सुबह 11 बजे इंदौर को स्वच्छता में फिर नंबर वन बनाने वाली 501 सफाई कर्मचारी बहनों का सम्मान किया जाएगा। इनके सामूहिक पूजन के अवसर पर सांसद शंकर लालवानी भी मौजूद रहेंगे।

दशहरा मैदान पर जलेगा 111 फीट का रावण और 250 फीट की लंका

इंदौर। दशहरा महोत्सव समिति द्वारा विजयादशमी पर दशहरा मैदान पर आयोजित रावण के पुतले और लंका दहन की तैयारियां अंतिम चरणों में है। संयोजक सत्यनारायण सलवाड़िया और अध्यक्ष पिंटू जोशी ने बताया कि दशहरा मैदान पर कलाकार और कारीगर 111 फीट का रावण और 250 फीट की लंका का निर्माण में जुटे हैं। तेज हवा और बारिश के कारण पुतले को खड़ा करने में बाधा आ रही है और मैदान भी गीला है। रावण दहन के पहले शाम 5 बजे प्रताप चौराहे से दशहरा मैदान तक विशाल शोभायात्रा निकलेगी।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close