197 जिलों के बीच होगी स्पर्धा

02 हजार खाद्य व्यापारियों को इंदौर में किया जाएगा प्रशिक्षित

इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। केंद्र सरकार द्वारा स्वच्छता पर शहरों के बीच शुरू की गई प्रतियोगिता के बाद अब भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफएसएसआइ) ने देश के 197 जिलों के बीच गुणवत्तापूर्ण और साफ-सुथरे खाने को लेकर भी ऐसी ही स्पर्धा शुरू की है। इसमें मध्यप्रदेश के नौ जिले (इंदौर, भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, रीवा, सागर, शहडोल, मुरैना) हिस्सा ले रहे हैं। इंदौर ने इसके लिए कार्ययोजना लगभग तैयार कर ली है। इसमें ईट राइट कैंपस और ईट राइट स्कूल के तहत आइआइटी, आइआइएम, एसजीएसआइटी सहित जिले के 150 शिक्षण संस्थानों को भी शामिल किया गया है, जहां विद्यार्थियों में सही और साफ-सुथरे खाने को लेकर जागरूकता कार्यक्रम चलाया जाएगा।

खाद्य और औषधि प्रशासन के अधिकारियों ने इंदौर की कार्ययोजना कलेक्टर मनीष सिंह को सौंप दी है। अपर कलेक्टर अभय बेडेकर कार्ययोजना को अंतिम रूप देकर दो-तीन दिन में एफएसएसएआइ को दिल्ली भेजेंगे। इस स्पर्धा में विभिन्ना तरह की गतिविधियों पर अंक दिए जाएंगे। कार्ययोजना में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और एएनएम को प्रशिक्षण देना भी शामिल है। इसके बाद वे बच्चों और महिलाओं के बीच शुद्ध और स्वच्छ भोजन, फल, सब्जी आदि खाने की समझ विकसित करेंगी। उन्हें तेल और नमक कम खाने के बारे में बताया जाएगा। खाद्य सामग्री बनाने और बेचने वाले व्यापारियों, होटल, रेस्त्रां संचालकों आदि को भी प्रशिक्षण दिया जाएगा कि शुद्ध और साफ खाद्य सामग्री बेचना और बनाना क्यों जरूरी है। इससे उनके व्यापार पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा और विश्वसनीयता बढ़ेगी।

दिसंबर तक 3 हजार लाइसेंस और पंजीयन बढ़ाने की तैयारी

शहर में खाद्य व्यापारियों के लाइसेंस और पंजीयन भी बढ़ाए जाएंगे। एफएसएसएआइ का नियम है कि 200 की जनसंख्या पर खाद्य का एक लाइसेंस होना चाहिए। इंदौर इस मापदंड पर पहले ही आगे है। फिर भी दिसंबर तक इसमें तीन हजार का इजाफा किया जाएगा। अभी यह संख्या 29 हजार है।

बताएंगे घर पर ही कैसे कर सकते हैं जांच

स्कूली व अन्य विद्यार्थियों और महिलाओं को यह भी बताया जाएगा कि खाने-पीने की चीजों में मिलावट या प्रदूषण की जांच प्राथमिक स्तर पर घर पर ही कैसे की जा सकती है? इंदौर में दो हजार खाद्य व्यापारियों को प्रशिक्षित किया जाएगा। मोबाइल फूड लैब से कितने शिविर लगाकर नमूने लिए गए, इस पर प्रतियोगिता आयोजित कर अंक दिए जाएंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020