इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि, EOW Indore News। शराब ठेकेदारों को 150 करोड़ की बैंक गारंटी देने के मामले की जांच कर रहे आर्थिक अपराध ब्यूरो (ईओडब्ल) को पंजाब एंड सिंध बैंक द्वारा सहयोग नहीं किया जा रहा है। जानकारी देने के लिए बैंक द्वारा दो दिनों का समय मांगा जा रहा है। ईओडब्लू ने बैंक अधिकारियों को भी इस मामले में आरोपित बनाने की तैयारी कर ली है।

ईओडब्लू एसपी धनंजय शाह ने बताया कि हमारी टीम लगातार राजवाड़ा स्थित पंजाब एंड सिंध बैंक के संपर्क में है। लेकिन वहां से जांच में सहयोग नहीं किया जा रहा है। हमसे दो दिनों का समय मांगा गया है। हमारी टीम दो दिनों में फिर से बैंक जाकर दस्तावेज लाएगी। शाह ने बताया कि मामले की अब तक की जांच में यह बात भी सामने आई है कि लगभग सभी शराब ठेकेदारों ने अपनी बैंक गारंटी देने के लिए केवल इसी बैंक की इसी शाखा को चुना है। इसलिए यह शंका है कि यहां के अधिकारियों की शराब ठेकेदारों के साथ मिलीभगत है। इसलिए इसकी जांच की जाएगी।

बैठक में बोले रिश्वतखोरों को पकड़ो

इधर गुरुवार को ईओडब्लू कार्यालय में डीएसपी और निरीक्षकों की एक कार्यशाला भी आयोजित की गई। जिसमें उन्हें रिश्वतखारों को रंगे हाथ पकड़ने और आवेदकों की शिकायत पर तुंरत कार्रवाई करने के लिए कहा गया है। इस दौरान लोक अभियोजन अधिकारी आशीष खरे भी मौजूद थे।

Posted By: gajendra.nagar

NaiDunia Local
NaiDunia Local