इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शासकीय महाविद्यालय राऊ में राष्ट्रीय बालिका दिवस पर सेमिनार आयोजित किया गया। ‘बालिका सशक्तिकरण’ विषय पर हुआ यह सेमिनार एनएसएस विभाग द्वारा आयोजित किया था। समिनार में मुख्य वक्ता माता जीजाबाई शासकीय स्नात्कोत्तर महाविद्यालय की प्राध्यापक डा. सुषमा शर्मा थीं।

डा. सुषमा शर्मा ने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि आर्थिक स्वावलम्बन और आत्मनिर्भरता सशक्तिकरण के लिये अनिवार्य है । ये तब ही संभव होगा जब बालिकाऐं शिक्षित होगी। एक सर्वे के अनुसार देश भी सभी युवतियों को शिक्षित होने में 56 वर्ष लगेंगे। शारीरिक स्वास्थ्य भी सशक्तिकरण के लिए आवश्यक है। जब आप शारीरिक रूप से मजबूत होगी तब ही मानसिक रूप से भी मजबूत बन सकोगी। व्यायाम, योग, दौड़ आदि नियमित रूप से करें एवं संतुलित पौष्टिक भोजन करें। दूध का सेवन नियमित करें। अपने जीवन की योजना बनाऐं, प्रबंधन करें। सर्वप्रथम लक्ष्य बनाएं और भविष्य को ध्यान में रखकर कार्य करें।

लक्ष्य हासिल करने के लिए आत्मविश्वास पूर्वक प्रयास करें एवं अपना दृष्टिकोण सकारात्मक रखें । दृढ़ संकल्प लेकर लक्ष्य पूर्ण करें। कठिनाइयों व चुनौतियों का सामना साहस के साथ करें । खुद से खुद की तुलना करके स्वयं का मूल्यांकन करें । सेमिनार के प्रांरभ में मां सरस्वती की मूर्ति पर माल्यार्पण किया गया । वक्ता का स्वागत प्राचार्य डा. सुधा सिलावट ने किया । एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी डा. अनुराग राव ने अतिथि परिचय दिया । छात्रा अंजली ने बालिका सशक्तिकरण के उपाय बताए । प्रो. राजपूत ने छात्राओं को सम्बोधित किया । इस अवसर पर कन्या पूजन भी किया गया । प्रो. राजपूत, प्रो. अनुराग राव ने स्मृति चिन्ह भेंट किए । संचालन लोकेंद्र यादव ने किया।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local