इंदौर । इंसानों के लिए उसकी हेल्थ प्रोफाइल तैयार होती है, वैसे ही किसान के खेत की हेल्थ प्रोफाइल तैयार हो तो कैसा रहे? किसान के लिए इससे अच्छी बात और क्या होगी? किसानों के लिए खुशखबर है कि ऐसा होने जा रहा है। यह होगा शुभ-लाभ (खेत की कुंडली) नाम के मोबाइल एप के जरिए। यह एप किसानों को अपने खेत, अपनी मिट्टी की सेहत के बारे में तकनीकी रूप से जानने में न केवल मदद करेगा, बल्कि कई और उपयोगी जानकारी भी देगा। इससे मौसम के बदलाव, फसलों की बीमारी और मंडी के भाव भी मिलेंगे।

जिला प्रशासन ने जिले के किसानों के लिए यह अनूठी पहल की है। इससे जिले के 1.34 लाख किसान लाभान्वित हो सकेंगे। इस एप की लॉन्चिंग 28 फरवरी को मुख्यमंत्री कमल नाथ करेंगे। जो किसान इस एप को डाउनलोड करेंगे वे इसका लाभ उठा सकेंगे। किसान को इस एप में अपने स्वॉइल हेल्थ कार्ड का नंबर डालना होगा।

इसके बाद एप खुद बताएगा कि खेत की मिट्टी में किस तरह के पोषक तत्वों की कमी है? मिट्टी को किन तत्वों की कितनी जरूरत है? मिट्टी की सेहत के हिसाब से कौन-सी फसलें उगाना बेहतर होगा?

कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव के मुताबिक जिस तरह अर्थव्यवस्था के हर क्षेत्र में आईटी का उपयोग हो रहा है, उसी तरह कृषि क्षेत्र में भी इसका उपयोग कर किसानों की फसलों की लागत कम कर आय बढ़ाना चाहते हैं। जिले के किसान इसका इस्तेमाल कर अपनी खेती की योजना बना सकेंगे। उन्हें यह पता चल सकेगा कि कौन से खेत में कौन सी फसल बोने पर लाभ होगा।

पता चलेगा कहां मिलेगा बीज, कैसा रहेगा मौसम

इस एप के जरिए किसानों को यह भी पता चलता रहेगा कि नेशनल बीज कॉर्पोरेशन, बीज निगम, एग्रीकल्चर कॉलेज और अनुसंधान केंद्रों के पास किस वैरायटी के कौन से बीज उपलब्ध हैं। उप संचालक कृषि विजय चौरसिया का कहना है कि इस एप से अगले दो-तीन दिन के मौसम की भी जानकारी मिलती रहेगी।

बारिश होगी, बादल रहेंगे, तापमान बढ़ेगा या घटेगा, तेज हवा चलेगी, कितनी स्पीड रहेगी जैसी सूचना भी मिलती रहेगी। इससे किसान पहले से तैयार होकर अपनी फसल को बचा सकेगा या योजना बना सकेगा। इंदौर के अलावा देवास, उज्जैन, धार, खरगोन, खंडवा जैसी मंडियों के भाव भी लाइव मिलते रहेंगे। किसानों के लिए उपयोगी इस तरह के अन्य नोटिफिकेशन भी एप पर आते रहेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network