देपालपुर, इंदौर। देपालपुर से लगभग 10 से 12 किलोमीटर दूर गांव जलालपुर के निवासी मोहन लाल पिता देवी (38 वर्ष) खेती-किसानी के साथ ही दूध का व्यापार करता था। मोहन लाल ने गुरुवार सुबह करीब 5 बजे अपने ही खेत पर आम के पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सुबह जब लोगों ने देखा तो उसे पेड़ से उतारा गया, परिजनों के साथ उसे देपालपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सुबह 11 बजे शव का पोस्टमार्टम किया तथा उसे परिजनों को दिया सौप दिया गया।

गांव वालों से चर्चा करने पर यह बात निकल कर सामने आई की मृतक मोहन के 2 और भाई हैं रामसिंह व विष्णु है। तीनों भाई एक साथ रहते हैं, इनके बीच उनके पिता देवी सिंह से 25 बीघा जमीन प्राप्त हुई थी। मोहन का एक पुत्र एवं तीन पुत्रियां हैं। वह लगभग 10 वर्ष से दूध के व्यवसाय से भी जुड़ा हुआ है और देपालपुर में दूध बेचने प्रतिदिन आता था।

बताया जा रहा है कि मोहन लाल पर बैंक के साथ साहूकार का कर्ज भी था। यह बात सामने आई है कि यह कर्ज 35 से 40 लाख रुपए का था, जिसके चलते वह मानसिक रूप से चिंतित था। देपालपुर थाने से प्राप्त जानकारी के अनुसार आत्महत्या का कारण अज्ञात है। थाना प्रभारी गोपाल परमार ने बताया कि मोहन लाल के आत्महत्या करने की जानकारी प्राप्त हुई, डॉक्टर ने मृत घोषित किया तथा शव का पोस्टमार्टम करा कर शव उसके परिजनों को सौंप दिया वहीं मर्ग कायम कर पुलिस प्रकरण की जांच कर रही है।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local