इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। माता जीजाबाई शासकीय डिग्री कन्या महाविद्यालय में एक महिला प्रोफेसर कोरोना संक्रमित पाई गई। जानकारी लगते ही कालेज में हड़कंप मच गया। प्राचार्या डा. श्री द्विवेदी ने तत्काल कालेज परिसर को सैनिटाइज करवाया और स्वास्थ्य विभाग को महिला प्रोफेसर के बारे में बताया। बाद में विभाग ने कालेज का बाटनी विभाग सील कर दिया है। उधर महिला प्रोफेसर के संपर्क में आए लोगों का कोरोना टेस्ट करवाया है। संक्रमित महिला प्रोफेसर को एमआरटीबी अस्पताल में भर्ती कराया है।

सूत्रों के मुताबिक महिला प्रोफेसर की बेटी बीते दिनों बेंगलुरु से परीक्षा देकर लौटी है। इसके चलते परिवार के बाकी सदस्यों की जांच भी करवाई है। संक्रमित होने की सूचना मिलते ही कालेज ने महिला प्रोफेसर के संपर्क में आए 60 शिक्षक, कर्मचारी और छात्राओं की कोरोना टेस्ट करवाया है और सभी को घर में रहने की सलाह दी। रिपोर्ट तीन दिन बाद आएगी। प्राचार्या डा. श्री द्विवेदी ने कहा कि कुछ प्रोफेसर की टेस्ट रिपोर्ट नहीं आने तक घर से आनलाइन क्लासेस लेने को बोला है। वे बताती है कि महिला प्रोफेसर के संपर्क में आई कुछ और छात्राओं को बुलाया था, लेकिन बारिश होने के चलते वे टेस्ट करवाने के लिए कालेज नहीं आ पाई।

डेंगू के सात मरीज मिले

बुधवार को शहर में डेंगू के सात मरीज मिले। इसे मिलाकर अब तक इंदौर में 1137 लोगों में डेंगू की पुष्टि हो चुकी है। इनमें 703 पुरुष और 434 महिलाएं शामिल हैं। डेंगू के मरीजों में 285 बच्चे भी शामिल हैं। फिलहाल डेंगू के सात मरीज विभिन्ना अस्पतालों में भर्ती हैं।

Posted By: gajendra.nagar

NaiDunia Local
NaiDunia Local