इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इंदौर के सरवटे बस स्टैंड का परिसर तैयार हुए सात माह बीत चुके हैं लेकिन अभी भी यहां यात्रियों के खाने-पीने की कोई सुविधा नहीं है। निगम द्वारा बस स्टैंड की इमारत में एक फूड जोन बनाया गया है लेकिन अभी तक यह चालू नहीं हुआ है। इसके संचालन के लिए पिछले दिनों निकाले गए टेंडर में सिर्फ एक ही एजेंसी शामिल हुई। इसलिए अब दोबारा इसका टेंडर निकाला जाएगा।

शनिवार को नगर निगम के राजस्व प्रभारी निरंजनसिंह चौहान एवं अपर आयुक्त भव्या मित्तल ने सरवटे बस स्टैंड का दौरा किया। चौहान ने बताया कि बस स्टैंड परिसर में बने फूड जोन पर यात्रियों को जल्द ही खानपान की सुविधा मिलने लगेगी। इसके लिए टेंडर जारी किए जाएंगे। यात्रियों को शुद्ध पेयजल देने के लिए परिसर में वाटर कूलर भी लगाए जाएंगे।

पार्किंग में होटल वालों के वाहन नहीं खड़े होंगे

सरवटे बस स्टैंड परिसर में बनी पार्किंग में आसपास के होटल वालों के ग्राहक व कर्मचारी अपने वाहन पार्क कर देते हैं। बस स्टैंड के स्टाफ ने इसकी शिकायत राज्य प्रभारी व अपर आयुक्त से की। इस पर चौहान ने बस स्टैंड प्रबंधन समिति के अफसरों निर्देश दिए कि वे सुनिश्चित करें कि पार्किंग का इस्तेमाल बाहरी होटल वाले न कर सकें। इसे यात्रियों के लिए आरक्षित रखा जाए।

बाहर खड़ी होने वाली बसों पर होगी कार्रवाई

सरवटे बस स्टैंड परिसर में आने वाली कई बसें परिसर के बाहर ही सड़क पर खड़ी हो जाती हैं। इस कारण ट्रैफिक जाम की स्थिति बनती है। अपर आयुक्त ने निर्देशित किया कि बस स्टैंड परिसर के बाहर खड़ी होने वाली बसों पर कार्रवाई की जाए। निगम राजस्व प्रभारी व अपर आयुक्त ने निरीक्षण के दौरान देखा कि परिसर में बस एजेंट में सवारियों को बसों में बैठाने के लिए होड़ मची हुई है। एजेंट सवारियों पर अपनी बसों में बैठने के लिए दबाव बना रहे हैं। राजस्व प्रभारी चौहान ने निर्देश दिए कि जब टिकट काउंटर बने हैं, बसों के आने-जाने का समय पर भी लिखा है तो इस तरह सवारियों को बैठाने की होड़ से बस स्टैंड परिसर का माहौल खराब होता है। इसे सुधारा जाए।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close