इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। दोपहिया वाहन चुराने वाले गिरोह ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। गिरोह का सरगना पूर्व जनपद अध्यक्ष का बेटा है जो शहर के विभिन्न थाना क्षेत्रों से महंगी गाड़ियां चुराता था। पुलिस ने आरोपित से सात गाड़ियां तो बरामद कर ली है।

डीसीपी जोन-2 संपत उपाध्याय के मुताबिक यह खुलासा कनाड़िया थाना द्वारा पकड़े गए आरोपित आनिकेत पुत्र दिनेश झांजा, दिनेश पुत्र अंतरसिंह झांजा, अजय पुत्र अंतरसिंह झांजा, विलास उर्फ पप्पू पुत्र राजकुमार सोनी, राहुल पुत्र निर्भय गुर्जर से हुई पूछताछ में हुआ है। आरोपितों को कनाड़िया थाना पुलिस ने पेट्रोल पंप लूटने की साजिश के आरोप में गिरफ्तार किया था। एसीपी जयंत राठौर ने जब आरोपितों से पूछताछ की तो बताया गिरोह का सरगना अनिकेत है। उसकी मां सरला पूर्व जनपद अध्यक्ष रही है। सरला का पति अंतर व देवर अजय भी वाहन चोर है और शहर से दोपहिया गाड़ियां चुरा कर ले जाते हैं। एसीपी के मुताबिक आरोपित मांग के अनुसार गाड़ी चोरी करते हैं। जैसा मॉडल और रंग की मांग आती है उसी हिसाब से गाड़ी उठा लेते है।

चार थानों की पुलिस ने बनाई 25 चोरों की कुंडली

डीसीपी के मुताबिक आरोपितों से जानकारी मिली है कि देवास जिले के पिपलरावा, धानीघाटी, चिड़ावद के करीब 25 कंजर शहर में सक्रीय हैं। आरोपित अस्पताल,नहोटल,नमैरिज गार्डन, कोचिंग क्लास आदी स्थानों से गाड़ियां चुरा कर ले जाते हैं। डीसीपी ने लसूड़िया, विजय नगर, खजराना और कनाड़िया थाना पुलिस को पूरे गिरोह की कुंडली बनाने के निर्देश दिए हैं।

ऐसे करते थे चोरी

यह गिरोह भीड़ भरे इलाके में वारदात को अंजाम देते थे और इसके लिए माल की पार्किंग को चुनते थे। जैसे ही कोई गाड़ी लगाकर जाता था, तो एक व्यक्ति उस पर नजर रखता था। दूसरा आदमी गाड़ी का लाक तोड़कर वहां से फरार हो जाता था।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local