इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। कोरोना टीकाकरण महाअभियान के बावजूद शहर में कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं। हालांकि इनकी संख्या बहुत कम है। बुधवार को 5815 सैंपलों की जांच की गई। इनमें से चार संक्रमित मिले। राहत की बात यह है कि बुधवार को ही पांच लोगों ने कोरोना पर जीत हासिल की और वे बीमारी को हराकर पूरी तरह से स्वस्थ्य हुए। शहर में फिलहाल कोरोना के 41 संक्रमितों का इलाज चल रहा है।

इधर जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम का अमला ज्यादा से ज्यादा लोगों को कोरोना टीके की दोनों डोज लगवाने में जुटा है। गुरुवार को भी 30 हजार से ज्यादा टीके लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

शहर में अब तक 29 लाख 53 हजार 595 सैंपलों की जांच की जा चुकी है। इनमें से एक लाख 53 हजार 356 संक्रमित मिले। कोरोना से रिकवरी की दर 99 प्रतिशत से ज्यादा चल रही है। जिले में पाए गए संक्रमितों में से एक लाख 51 हजार 922 पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। जिले में 24 लाख से ज्यादा लोग ऐसे हैं जिन्होंने कोरोना की दोनों डोज लगवा ली है। डॉक्टरों के मुताबिक ऐसे लोगों को नए वैरिएंट का खतरा अन्य लोगों के मुकाबले कम है। जरूरत इस बात की है कि शत प्रतिशत वयस्क दोनों डोज लगवा लें।

बच्चों के संक्रमित पाए जाने से बढ़ी चिंता

इधर पिछले कुछ दिनों से लगातार बच्चों के संक्रमित पाए जाने की खबरें आ रही हैं। बच्चों के लिए अब तक कोरोना का टीका जारी नहीं हुआ है। बच्चों के लिए कोरोना प्रोटोकाल का पालन करना भी मुश्किल होता है। ऐसी स्थिति में बच्चों को लेकर अभिभावकों में चिंता बढ़ रही है।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local