इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि Makar Sankranti Accident Indore। मकर संक्राति पर पतंग उड़ाने वालों के कारण एक चार साल की बच्ची की जान पर बन आई। अपने पिता के साथ बडी मां के घर से लौट रही बच्ची की गर्दन डोर से कट गई। घटना में पिता और बेटी गाड़ी से भी गिर गए। बच्ची की हालत खतरे से बाहर है।

जानकारी के अनुसार घटना गुरुवार दोपहर महू नाका चौराहे पर हुई। लुसड़िया में रहने वाली पल्लवी राठौर अपने पिता मुकेश राठौर के साथ महूनाके के पास रहने वाली बड़ी मां के घर गई थी। पिता मुकेश ने बताया कि हम दोनों बाईक से वापस लौट रहे थे। तभी अचानक कहीं से पंतग आ गई। उसकी डोरी पल्लवी के गले पर लग गई । वह अचानक जोर से चिखी। बैलैंस बिगड़ गया और हम गिर गए। आस-पास के लोगों ने हमें उठाया और इसके बाद पास के अस्पताल ले गए। डोर से पल्लवी का गला कट गया। उसके गले में चार टांके आए है। कुछ घंटे बाद डॉक्टरों ने छुट्टी दे दी और हम घर आ गए है। मुकेश ने बताया मैं, कारपेंटर का काम करता हूं। मेरी एक ही बेटी है। मैंने बच्ची को आगे बैठा रखा था, जिससे उसका गला कट गया। हालांकि भगवान का शुक्र है कि उसके गले की नसें कटने से बच गई, जिससे मेरी बेटी सकुशल है।

चाइना की डोर से बाइक सवार के गले और हाथ में आए जख्म

प्रतिबंध के बावजूद शहर में मकर संक्रांति पर चाइना की डोर जमकर बिकी। इससे हादसा भी हुआ। चंदन नगर में पतंग कटने के बाद एक बाइक सवार के सामने चाइना की डोर आ गई। इससे उसके हाथ और गले में चोट आई है। ग्रीन पार्क कॉलोनी निवासी इमरान गुरुवार को लाबरिया भेरू जाने के लिए घर से निकला था। वह बाइक से कुछ दूर गया था कि अचानक कटी पतंग की चाइना डोर उसके गले में लिपट गई। इमरान ने डोर से बचने के लिए हाथ आगे बढ़ाया तो डोर से हाथ और गले पर कट लग गए। उसने तुरंत गाड़ी रोक दी। इस बीच वहां खड़े लोगों ने उसकी मदद की। इमरान तुरंत गाड़ी नहीं रोकता तो बड़ा हादसा हो सकता था।

Posted By: Sameer Deshpande

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस