मालवा-निमाड़ (टीम नईदुनिया)। पीएम किसान सम्मान निधि योजना में फर्जीवाड़ा सामने आया है। फर्जी दस्तावेज से पंजीयन कराकर योजना का लाभ ले लिया गया। खंडवा तहसील में ही करीब 2300 ऐसे पंजीयन सामने आए हैं, जो अपात्र पाए गए हैं। इनसे अब तक 25 लाख रुपए वसूले जा चुके हैं।

खंडवा में अपात्रों ने कृषि भूमि नहीं होने के बावजूद स्वयं को किसान बताकर पंजीयन करा लिया और 2018-19 में छह-छह हजार रुपये की राशि ले ली। कई शासकीय सेवक और आयकर दाताओं ने भी लाभ ले लिया। जब इसकी भनक अ;घिळर्-ऊि्‌झ।कारियों को लगी तो हड़कंप मच गया। अपात्रों का डाटा समग्र आईडी के माध्यम से खंगाला गया और राशि वसूल करने के लिए तहसीलदार ने नोटिस जारी किए जा रहे हैं।

रतलाम : 15242 किसान अपात्र रतलाम जिले में 15242 किसान अपात्र घोषित किए गए हैं, जबकि दो लाख 52 हजार 887 किसान पात्र हैं। अपात्रों में ऐसे लोग भी हैं जो सरकारी नौकरी के साथ खेती करते हैं और इनकम टैक्स के दायरे में आते हैं।

झाबुआ : 30 हजार किसानों के दस्तावेज की जांच 30 हजार खाते ऐसे थे, जो अटक गए थे।वजह यह थी कि डुप्लीकेट आधार कार्ड किसानों ने लगा दिए। पुराने समय से कई किसानों के पास दो-दो आधार कार्ड बने हुए थे और उन्होंने अलग-अलग अपडेट कर दिए थे। इनकी जांच हो रही है। भू-अभिलेख के अधीक्षक सुनील कुमार राहणे के अनुसार जिले में एक लाख 33 हजार किसान पात्रता रख रहे थे, लेकिन तकनीकी त्रुटि से एक लाख 3 हजार किसानों के खाते में ही प्रथम किस्त जमा हो पाई।

बड़वानी जिले में ऐसे 889 किसानों के खातों में राशि आ गई है, जो आयकर दाता हैं। अधीक्षक भू-अभिलेख मुकेश मालवीय ने बताया कि संबंधित तहसीलदारों के माध्यम से इन किसानों को नोटिस जारी किए गए हैं।

खरगोन जिले में 1 लाख 85 हजार किसानों को योजना का लाभ मिल रहा है। 9 गांवों में सत्यापन करने पर 86 किसान अपात्र मिले हैं। इनसे 4 लाख 44 हजार रुपये की वसूली होगी। अन्य गांवों में सत्यापन कार्य की गति धीमी है।

इनका कहना है

नियम है कि किसान सम्मान निधि उन्हीं किसानों को मिलनी चाहिए, जिनके पास कृषि भूमि है। हर जिले में सम्मान निधि का काम भू-अभिलेख विभाग कर रहा है। किसान के जमीन के खसरे के हिसाब से उसके खाते में ही राशि मिलती है। फिर भी यदि कहीं गड़बड़ी हो रही है तो इसे सुधरवाने में हम भू-अभिलेख विभाग को मदद करेंगे।

- आलोक मीणा, संयुक्त संचालक, कृषि, इंदौर

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस