RTO Indore: इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। पुराने निजी वाहनों के नाम ट्रांसफर, एनओसी, फाइनेंस हटाना जैसे काम भी आगामी 18 दिसंबर से केंद्र सरकार के वाहन पोर्टल पर होंगे। अब तक यह काम मध्य प्रदेश परिवहन के पोर्टल पर हो रहे थे। नए वाहनों का पंजीयन पहले ही अगस्त से वाहन पोर्टल पर हो रहा है, लेकिन इससे जुड़ी समस्या बनी हुई है।

आरटीओ अधिकारियों के अनुसार पूरे प्रदेश में एक अगस्त से नए वाहनों की पंजीयन की व्यवस्था वाहन पोर्टल पर चली गई है। जिसमें अब तक करीब 65 हजार नए वाहनों का पंजीयन भी हो चुका है। लेकिन पुराने वाहनों से जुडे काम जीयन मध्यप्रदेश परिवहन की वेबसाइट पर ही चल रहा था। अब 18 दिसंबर से इसे भी वाहन पोर्टल पर ही किया जाएगा। आरटीओ में रोजाना करीब 300 वाहनों के आवेदन आते है। इसके अलावा एनओसी और फाइनेंस हटाने के आवेदन भी आते है। अब यह सभी काम वाहन पोर्टल पर होंगे।

सूत्रों का कहना है कि अभी निजी वाहनों का काम वाहन पोर्टल पर होंगे। विदिशा में इसका ट्रायल हो गया है। लेकिन वाहन पोर्टल के साथ एक बडी समस्या यह है कि यह पोर्टल काफी धीमे चलता है। कई बार इसमें दिक्कत होती है। ऐसे में नाम ट्रांसफर के काम भी अटक जाएगें।

डेटा शिफ्ट करने में लगेगा समय

जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश परिवहन की वेबसाइट से डेटा वाहन पोर्टल पर शिफ्ट करना पड़ेगा। इसके लिए दो से तीन दिन का समय भी लग सकता है। इंदौर आरटीओ के रेकार्ड में करीब साढ़े 23 लाख वाहन पंजीकृत है। ऐसे इसमें से अभी निजी वाहनों को डेटा शिफ्ट होगा। बाद में व्यवसायिक वाहनों का डेटा शिफ्ट किया जाएगा। पिछले साल जब लाइसेंस की व्यवस्था मध्यप्रदेश परिवहन के सर्वर से केन्द्र सरकार के सारथी सर्वर पर गई थी। तब भी डेटा शिफ्ट करने में करीब तीन दिन लग गए थे।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close