इंदौर, Happy Mothers day 2021। मुकेश मंगल, इंदौर। शनिवार रात यशवंत निवासी रोड पर पुलिस का काफिला पहुंचा तो लोग हैरान रह गए। कालोनी की तंग गलियों में रहने वाले लोग घर में दुबक गए। उन्हें लगा हम में से किसी ने जनता कर्फ्यू के उल्लंघन कर दिया और अब किसी की भी खैर नहीं है। पुलिसकर्मी 70 वर्षीय सुहासिनी तलवार के घर पहुंचे तो उनकी आंख भर आईं। पुलिसकर्मी उनके लिए केक, फल, मिठाई लेकर आए थे। उनके पति का निधन हो चुका है और उनके बच्चे भी नहीं हैं।

विजयनगर थाना टीआइ तहजीब काजी के इस नेक काम ने न सिर्फ मातहतों बल्कि रहवासियों का भी दिल जीत लिया। काजी 2 साल पूर्व तुकोगंज थाने में पदस्थ थे। उस वक्त सुहासिनी बतौर फरियादी थाने पर आइ थीं। बातों-ही बातों पता चला सुहासिनी तो अकेली रहती हैं। पति लीला कृष्णा की चार साल पूर्व निधन हो चुका है। उसी वक्त टीआइ ने कहा आप मुझे अपना बेटा माने। कभी भी कोई भी जरुरत हो तो बस एक काल कर देना। टीआइ पेट्रोलिंग करते हुए सुहासिनी से मिलने पहुंच जाते थे। जरूरत की सारी चीजें दे देते थे। कोरोना काल के दौरान वह सुहासिनी से नहीं मिल पाए। शनिवार रात पता चला रविवार को मदर्स डे है।

रात में ही केक, फल, मिठाइयों की व्यवस्था की और सिपाही भरत बड़े, कुलदीप को लेकर सुहासिनी के पास पहुंच गए। पैर छू कर जैसे ही हैप्पी मदर्स डे कहा सुहासिनी की आंखे भर आईं। सुहासिनी के मुताबिक इसके पहले इस तरह से कभी किसी ने मदर्स डे नहीं मनाया। उन्हें काजी पर बहुत भरोसा है। वह एक पुलिस अफसर ही नहीं बल्कि अच्छे इंसान भी हैं। घर की दिवार पर भी काजी के नंबर लिखे हैं। जरुरत पड़ने पर तत्काल काल कर देती हैं।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local