Heavy Rain in Indore : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इंदौर में मंगलवार शाम से शुरू हुई मूसलधार बरसात का असर शहर की बिजली व्यवस्था पर दिखाई दिया। हालांकि बरसात के साथ तेज हवा नहीं चली। इससे बिजली कंपनी ने राहत की सांस ली। शहर के सिर्फ एक क्षेत्र में बिजली लाइन पर पेड़ गिरा। कुछ क्षेत्रों में जलजमाव के कारण पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी को बिजली बंद करना पड़ी। राजवाड़ा क्षेत्र का अधूरा निर्माण भी बारिश के दौरान बिजली आपूर्ति में बाधक साबित हो रहा है।

मंगलवार रात जूनी इंदौर के पागनीसपागा क्षेत्र में 33 केवी लाइन पर पेड़ गिर गया। इससे लाइन टूट गई। नगर निगम और बिजली कंपनी की टीम ने पहुंचकर बारिश के बीच ही पेड़ हटाने का काम शुरू किया। इस दौरान आपूर्ति बंद कर दी गई। देर रात क्षेत्र में वैकल्पिक आपूर्ति शुरू की गई। बिजली कंपनी के अधीक्षण यंत्री मनोज शर्मा के अनुसार बुधवार सुबह भी टूटी लाइन के सुधार का काम जारी है। दोपहर तक काम पूरा कर लिया जाएगा। पूरे इंदौर में करीब 40 टीमें तैनात की गई है जो बरसात के दौर में बिजली गुल होने और आपात सुधार के काम में लगी है। हालांकि इस वर्षा के साथ तेज हवा और तूफान जैसी स्थिति नहीं होने के कारण ज्यादा परेशानी नजर नहीं आई।

1100 शिकायतें पहुंची - अधीक्षण यंत्री के अनुसार मंगलवार शाम से बुधवार सुबह तक करीब 1100 शिकायतें बिजली गुल होने की कंपनी के काल सेंटर पर पहुंची है। सिरपुर तालाब के आसपास के क्षेत्रों और अवैध कालोनियों में कंपनी ने एहतियातन बिजली आपूर्ति बंद कर दी है। यहां तालाब लबालब हो चुका है। कालोनियों में जलजमाव और ट्रांसफार्मर के आसपास पानी भरने के कारण किसी तरह की जनहानि न हो, इसलिए आपूर्ति रोकी गई है। सुदामा नगर के कुछ क्षेत्रों में भी सावधानीवश आपूर्ति बंद की गई है। दूसरी ओर राजवाड़ा से जुड़े कुछ क्षेत्रों नीलकंठ कालोनी व आसपास देर रात तक बिजली गुल रही। क्षेत्र में बिजली कड़कने के कारण कुछ ट्रांसफार्मर फाल्ट हुए थे। रात को ही सुधार कर आपूर्ति ठीक कर ली गई। बायपास से लगी कालोनियों में भी बिजली के वोल्टेज की समस्या आ रही है। बताया जा रहा है कि बायपास क्षेत्र में शहर के मुकाबले ज्यादा बारिश होने से कुछ ट्रांसफार्मर फाल्ट हुए हैं।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close