Hello Naidunia Indore: इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रोजगार को लेकर केंद्र व प्रदेश सरकार अपने-अपने स्तर पर निरंतर प्रयास करने में लगी हैं। निजी क्षेत्रों में नौकरियों के अवसर प्रदान किए जा रहे हैं। रोजगार पोर्टल पर नौकरियों से जुड़ी जानकारियां उपलब्ध हैं। बस इसके लिए आवेदकों को पंजीयन करवाने की जरूरत है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए आनलाइन पंजीयन की सुविधा दे रखी है। वहीं सरकार समय-समय पर रोजगार मेला भी आयोजित कर रही है। इसे लेकर भी पोर्टल पर सूचना दी जाती है।

ये बातें सहायक रोजगार अधिकारी पवन कुमार गोयल ने कहीं। उन्होंने मंगलवार को हैलो नईदुनिया कार्यक्रम के जरिए रोजगार से जुड़े लोगों के सवालों के जवाब दिए। उन्होंने बताया कि 2014 से रोजगार कार्यालय में आनलाइन पंजीयन की सुविधा शुरू हुई है। अब विद्यार्थियों को कार्यालय तक आने की आवश्यकता नहीं है। इन दिनों तीन क्षेत्रों में युवाओं के लिए हजारों नौकरियां उपलब्ध हैं, जिसमें मार्केटिंग, लाजिस्टिक, कॉल सेंटर शामिल हैं। नौकरियों को लेकर विद्यार्थियों व आवेदकों को अलग से थोड़ी तैयारियां करनी चाहिए। भाषाओं में पकड़ रखने के अलावा कंप्यूटर व अन्य तकनीकी ज्ञान जरूरी है। उसके आधार पर नौकरियां आसानी से मिल सकती हैं।

सवाल-जवाब

रोजगार कार्यालय से नौकरियों की जानकारियां नहीं मिलती हैं तो कंपनियों से कैसे संपर्क करें? - राजीव अग्रवाल, देवास

- केंद्र और प्रदेश सरकार की रोजगार की अलग-अलग वेबसाइट पर नौकरियों से जुड़ी जानकारियां उपलब्ध हैं। पंजीयन करवाने के बाद निजी क्षेत्र की नौकरियों से जुड़े विज्ञापन नजर आ सकते हैं। 2014 से वेबसाइट पर जानकारियां विभाग द्वारा अपलोड की जा रही हैं।

लाकडाउन के बाद रोजगार के अवसर कम हुए और व्यवसाय भी प्रभावित हुए हैं। क्या इन दिनों सरकार रोजगार को बढ़ावा दे रही है? - नर्सिंग कुदवाल, इंदौर

- निश्चित ही सरकार अपने स्तर पर नौकरियां उपलब्ध करवाने के प्रयास में लगी है। निजी क्षेत्रों में मार्केटिंग, लाजिस्टिक में ढेरों नौकरियां युवाओं के लिए उपलब्ध करवाई जा रही हैं। वैसे स्वरोजगार की योजनाएं भी सरकार चला रही है।

12वीं के बाद नौकरियों के अवसर मिलते है क्या? - कन्हैया, देवास

- 12वीं कक्षा के बाद भी नौकरियां उपलब्ध करवाई जाती हैं। मगर अच्छी नौकरी पाने के लिए आइटीआइ से किसी भी प्रकार की तकनीकी शिक्षा में डिप्लोमा हासिल करें। उसके बाद आवेदन करें, ताकि अच्छे वेतन की नौकरी मिलने की उम्मीद हो।

ग्रामीण इलाकों में नौकरी व व्यवसाय के लिए संभावनाएं है क्या? - असलम शेख, उज्जैन

- ग्रामीण इलाकों में कंपनी या इंडस्ट्री नहीं हैं। इसलिए वहां नौकरी को लेकर थोड़ी कम संभावनाएं हैं। बेहतर होगा कि शहर का रुख करें, क्योंकि अच्छी कंपनियों के दफ्तर शहरी इलाकों में हैं। कौशल आधारित प्रशिक्षण लेकर भी व्यवसाय शुरू किया जा सकता है।

फेब्रिकेशन का काम करता हूं। क्या खुद का व्यवसाय शुरू कर सकता हूं। इसके लिए कितना ऋण मिल सकता है? - ओमकार विश्वकर्मा, इंदौर

- स्वयं का व्यवस्था शुरू करने में भी सरकार मदद करती है। प्रधानमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत ऋण दिया जाता है। वैसे 50 हजार तक का ऋण बैंक से मुद्रा लोन के तहत मिल सकता है।

बेरोजगार युवाओं के लिए किस क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध हैं? इसकी जानकारी कहां से मिलेगी? - मनीष वर्मा, देवास

- रोजगार से जुड़ी जानकारी विभाग की वेबसाइट पर दे रखी है। वैसे युवाओं को टेक्निकल कोर्स करने पर ध्यान देना चाहिए। इसके लिए आइटीआइ से डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स चलाए जा रहे हैं। उसके बाद नौकरियों के बेहतर अवसर मिलेंगे।

बेटी ने पालिटेक्निक से कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा किया है। अब वह पढ़ाई के साथ नौकरी करना चाहती है। क्या कोई पार्ट टाइम जॉब उपलब्ध है? - अनवर हुसैन, मल्हारगंज

- अगर उसकी पढ़ाई में दिलचस्पी है तो अन्य कोर्स पहले करवाएं। उसके बाद रोजगार के लिए प्रयास करें, क्योंकि निजी क्षेत्र में पार्ट टाइम जॉब काफी कम है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local