Higher Education Department: इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बीएड-एमएड, बीपीएड-एमपीएड समेत अन्य एनसीटीई कोर्स में प्रवेश को लेकर दो चरणों की काउंसलिंग खत्म हो चुकी है। बावजूद इसके कॉलेजों की आधी सीटें भी नहीं भर पाई हैं। उच्च शिक्षा विभाग ने बुधवार को सीटों की जानकारी सार्वजनिक की है, जिसमें केवल बीएड में 42 फीसद सीटों पर दाखिला हुआ है।

आंकड़ों के हिसाब से अभी 34 हजार सीटें खाली हैं। जबकि तीसरे चरण को लेकर पंजीयन शुरू हो गए हैं, जो 19 सितंबर को बंद हो जाएंगे। ऐसे में मालवांचल शिक्षा महाविद्यालय संघ ने सीएलसी (कॉलेज लेवल काउंसलिंग) की मांग उठाई है। मामले में विभाग के अधिकारियों को ज्ञापन भी सौंप दिया है।

बीते वर्षों की तुलना में बीएड में सबसे अधिक पंजीयन सत्र 2020-21 में हुए हैं। आवेदनों की संख्या से अनुमान लगाया जा रहा था कि दूसरे चरण तक 70-80 फीसद सीटों पर दाखिले हो सकते हैं। मगर आवंटन के बावजूद 42 फीसद विद्यार्थियों ने फीस जमा की है।

देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के दायरे में आने वाले 55 कॉलेजों में से केवल स्कूल ऑफ एजुकेशन में 87 प्रवेश हुए हैं। यहां 150 सीटें हैं। जबकि बाकी कॉलेजों में 100-100 सीटें हैं। न्यू ऐरा कॉलेज में 78, कॉम्पफीडर में 61 और अरिहंत कॉलेज में 60 सीटें भरी हैं।

संघ की डॉ. रेणु झा और कविता कासलीवाल ने बताया कि कॉलेज अपने स्तर पर सीएलसी के लिए तैयार हैं। सरकार से अनुमति मिलते ही विद्यार्थियों को मेरिट के आधार पर प्रवेश दे दिया जाएगा। संघ के गिरधर नागर और कमल हिरानी का कहना है कि दूसरे चरण में 41 हजार विद्यार्थियों ने दस्तावेज सत्यापन करवाए थे। मगर 19 हजार विद्यार्थियों को कॉलेज ही अलॉट नहीं हुए।

34 हजार सीटें खाली

प्रदेशभर में 500 से ज्यादा कॉलेजों में बीएड कोर्स संचालित होता है। अकेले बीएड में 62 हजार सीटें हैं, जिसमें अभी 34 हजार सीटों पर दाखिला होना बाकी है। जबकि एमएड में पांच हजार सीटें हैं, जिसमें अभी तक 2000 विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया है। बीपीएड-एमपीएड में भी स्थिति अच्छी नहीं है। दोनों पाठ्यक्रम में अभी तक हजार सीटें भी नहीं भरी हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020