इंदौर, भोपाल। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इंदौर के शासकीय नवीन ला कालेज के प्रोफेसर डा. फरहत खान की विवादित पुस्तक के मामले में इंदौर पुलिस कमिश्नर को जांच कर दोषी होने पर 24 घंटे में एफआइआर दर्ज करने के निर्देश दिए। जिसके बाद पुलिस ने ला कालेज के प्रिंसिपल पद से इस्तीफा देने वाले डा. इमामूल रहमान और प्रोफेसर के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर ली है। इनके साथ ही किताब के पब्लिशर अमर क्षेत्रपाल और प्राध्यापक मिर्जा मौजिद के खिलाफ भी भादंवि की धारा 153(क), 295(क)505 के तहत केस दर्ज किया गया।

गृहमंत्री ने बताया कि इंदौर के शासकीय नवीन विधि महाविद्यालय में राष्ट्र विरोधी गतिविधियां संचालित करने के मामले में जांच के आदेश के साथ 5 लोगों के विरुद्ध कार्रवाई की गई है। उन्होंने कहा कि राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में शामिल होने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी, किसी को बख्शा नहीं जाएगा।

गृहमंत्री ने कहा कि मध्य प्रदेश में किसी भी हालत में नक्सलवाद को बढ़ने नहीं दिया जाएगा। अभी तक प्रदेश में 86 लाख रुपये के इनामी नक्सली या तो मार दिए गए हैं या जेल के सलाखों के पीछे हैं। प्रदेश में नारकोटिक्स एवं अन्य नशीली दवाओं की रोकथाम और बेहतर समन्वय हेतु प्रदेश के सभी जिलों में कलेक्टर की अध्यक्षता में जिला स्तरीय समिति का गठन किया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआइए) का थाना खुलने जा रहा है। जिसका कार्य क्षेत्र संपूर्ण मध्यप्रदेश होगा।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close