इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मैंने सोमवार को शहर में अफसरों की बैठक ली और उनसे कहा है कि उद्यमियों को प्रताड़ित न करें। हमने उद्यमियों पर विश्वास किया है, लेकिन कुछ फर्जी लोग फर्जी टैक्स क्रेडिट लेने के काम कर रहे हैं। इससे ईमानदार उद्यमियों को नुकसान होता है।

यह बात वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने मंगलवार को रोजगार मेले में कही। उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था मजबूत है। इसे फाइव ट्रिलियन अर्थव्यवस्था बनने से कोई नहीं रोक सकता। 2014 में भारतीय अर्थव्यवस्था 11वें नंबर पर थी, पांच वर्षों में हम टॉप फाइव में आ गए हैं। उन्होंने कहा कि हमने उद्योगपतियों की सुविधा के लिए काफी काम किए हैं।

उन्‍होंने कहा‍ कि कई ऐसी स्कीमें लेकर आ रहे हैं जिनमें पुराने विवादों का निराकरण हो रहा है। अब हमारी सरकार आयकर के पुराने मुकदमे समाप्त करने की तैयारी कर रही है। मप्र और छत्तीसगढ़ में ही इनकम टैक्स के 41 हजार मुकदमे हैं। इनके खत्म होने से उद्यमी को भी फायदा होगा और देश के खजाने में भी पैसा आएगा। जो देश के विकास पर ही खर्च होगा। उन्होंने कहा कि भारतीय शिक्षा में तकनीकी शिक्षा का हमेशा अभाव रहा है। हमारी सरकार ने तकनीकी शिक्षा पर ही जोर दिया है।

ठाकुर ने कहा कि कई शहरों में कौशल विकास केंद्र खोले गए हैं, ताकि युवाओं को रोजगार मिले। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने कहा कि अब युवाओं का सपना रोजगार पाने का नहीं, बल्कि रोजगार देने का है। नवाचार के कारण कई युवा उद्यमी बन गए हैं। जिस युवा को रोजगार मिलता है, उसे चैन की नींद आती है। कार्यक्रम में वरिष्ठ भाजपा नेता विनय सहाबुद्धे, कैलाश विजयवर्गीय, सांसद शंकर लालवानी और महापौर मालिनी गौड़ ने भी अपनी बात रखी।

100 युवाओं को मौके पर ही नौकरी

रोजगार मेले के आयोजक पार्षद दीपक जैन टीनू ने बताया कि मेले में तीन हजार से ज्यादा पंजीयन हुए थे। कई युवाओं को नौकरी के अवसर मिले हैं। 100 युवाओं को तो मेले में ही जॉब लेटर मिल गए।

अगले वर्ष छह प्रतिशत हो सकती है विकास दर

पत्रकारों से चर्चा करते हुए मंत्री ठाकुर ने कहा कि दुनियाभर से कंपनियां भारत में निवेश करना चाहती हैं। इकोनॉमिक सर्वे और आरबीआई ने 2020-21 में छह प्रतिशत विकास दर बताई है जो अपने आप में दुनिया की ज्यादा विकास दरों में से एक होगी। मोदी सरकार ने अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए कई कदम उठाए हैं। भविष्य में उसके सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे।

Posted By: Hemant Upadhyay