इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। संबद्धता जारी करने को लेकर देवी अहिल्या विश्वविद्यालय (डीएवीवी) अपने नियमों में बदलाव करने जा रहा है। अब कालेजों का नाम, स्थान और संस्था में परिवर्तन संबंधित जानकारी प्रबंधन को मार्च तक देना होगा। उसके बाद आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएंगे। फिर विश्वविद्यालय प्रशासन को दो महीने के भीतर निरीक्षण की प्रक्रिया पूरी करना है। ताकि सत्र शुरू होने से पहले कालेज संबंद्धता जारी हो सके। यहां तक कालेज को नाम-संस्था में बदलाव करने का शुल्क भी बढ़ाया जा रहा है। मामले में कार्यपरिषद ने भी हरी-झंड़ी दे डाली है।

कालेजों में नए कोर्स, सीट वृद्धि, कोर्स नवीनीकरण संबद्धता को लेकर विश्वविद्यालय शुल्क वसूलता है, लेकिन बाकी एजेंसी कालेज का नाम, स्थान और संस्था में परिवर्तन करने पर भी शुल्क वसूला जाता है। इसके चलते कार्यपरिषद सदस्यों ने विश्वविद्यालय को प्रत्येक कार्य के लिए शुल्क निर्धारित करने के निर्देश दिए है। अभी इन्हें लेकर विश्वविद्यालय में नाममात्र का शुल्क लगता है। सदस्यों ने विश्वविद्यालय की आय बढ़ाने पर जोर दिया है।

सूत्रों के मुताबिक विश्वविद्यालय ने तय किया है कि संबद्धता से जुड़े मामलों में आवेदन मार्च तक बुलाए जाए। यहां तक राशि में भी बढ़ोत्तरी को लेकर विचार किया जा रहा है। अगले पंद्रह से बीस दिन में विश्वविद्यालय नियमों में संशोधन कर सकता है। इसे लेकर अधिकारियों की एक बैठक हो चुकी है। डीसीडीसी डा. राजीव दीक्षित का कहना है कि संबद्धता संबंधित नियमों को लेकर कुछ बदलाव किए जा रहे है। अगले कुछ दिन में स्थिति स्पष्ट होगी।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local