सो रही पत्नी और सौतेले पुत्र के सिर पर मारा सिलेंडर, फिर रेता था गला

काम की तलाश में इंदौर आया था, पत्नी के अवैध संबंध का पता चलने पर कर दी थी हत्या

इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। दो दिन पहले पत्नी और 11 साल के सौतेले पुत्र की हत्या करने वाले आरोपित को पुलिस ने ग्राम सिरसौली (महाराष्ट्र) से गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। उसने पुलिस को बताया कि उसे नींद में ही मौत के घाट उतार दिया था। वह महिला का पांचवां पति था।

पुलिस ने बताया कि फरियादी मंगेश गावंडे ने बुधवार को सूचना दी थी कि वह गणेशधाम कालोनी में किराये के मकान में रहता है। तीन दिन पहले ही उसका परिचित कुलदीप दिगे अपनी पत्नी शारदा गुर्जर व पुत्र आकाश के साथ जिला अकोला (महाराष्ट्र) से इंदौर में काम की तलाश में आया था। वे सभी उसके कमरे पर रुके थे। सुबह 6 बजे वह काम पर निकल गया था। शाम को साढ़े चार बजे जब वह लौटा तो उसे कमरे में शारदा और आकाश की खून से सने हुए शव मिले। आरोपित कुलदीप उनकी हत्या करके भाग गया। आरोपित को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस की टीम बनाई और उसकी मोबाइल लोकेशन से जानकारी निकाली।

मराठी भाषा की रिकार्डिंग से खुला अवैध संबंध का राज

जांच के दौरान पुलिस ने मंगेश का मोबाइल जब्त कर उसके कॉल डिटेल की जांच की। इस दौरान पता चला कि हत्या के बाद मंगेश और आरोपित कुलदीप दिगे के बीच शाम चार बजे मोबाइल पर मराठी भाषा में बात हुई थी। पुलिस ने अनुवाद कराया तो पता चला कि मंगेश के कुलदीप की पत्नी से अवैध संबंध थे। उसने चाबी के बारे में पूछा तो बोला- बाथरूम के बाजू में रखी है।

उसने मंगेश को भी मारने की धमकी दी। रिकार्डिंग मिलने के बाद मंगेश ने बताया कि वह तीन साल से शारदा को जानता था। कुलदीप से शादी करने के पहले छह महीने तक दोनों साथ भी रहे थे। एक जनवरी से दोनों में फिर से बातें होने लगीं और तो उसने शारदा को पति के साथ इंदौर बुला लिया। शारदा अब कुलदीप से पीछा छुड़ाना चाहती थी, इसलिए दोनों में विवाद हो रहा था।

इसके बाद आरोपित कुलदीप ने पूछताछ में हत्या करने की बात स्वीकार ली है। उसने पुलिस को बताया कि इंदौर आने के बाद शारदा और मंगेश के बीच की नजदीकियों को बढ़ते देख वह परेशान हो गया था। इसलिए बुधवार सुबह 7 बजे आरोपित ने पहले पत्नी के मुंह में कपड़ा ठूंस दिया और फिर पास में रखा गैस सिलेंडर पत्नी और फिर बेटे के सिर पर मारा। इसके बाद सब्जी काटने के चाकू से दोनों का गला रेत दिया। दोनों की हत्या करने के बाद वह वहां से भाग निकला था।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local