इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर में कोरोना रोजाना नया रिकार्ड बना रहा है। बुधवार को शहर में तीन हजार से ज्यादा नए संक्रमित मिले। 12577 सैंपलों की जांच की गई। यानी जांचा जाने वाला हर चौथा सैंपल संक्रमित मिल रहा है। शहर में कोरोना की यह अब तक की सबसे ज्यादा संक्रमण दर है। इसके पहले अधिकतम संक्रमण दर 21 प्रतिशत के आसपास थी। यह पहला मौका है जब एक ही दिन में कोरोना के इतने ज्यादा संक्रमित मिले हैं। बुधवार को उपचाररत मरीजों का आंकड़ा भी 15 हजार 751 पर पहुंच गया।

बुधवार देर रात जारी मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक अब तक जिले में 33 लाख 20 हजार 62 सैंपल जांचे जा चुके हैं। इनमें से एक लाख 74 हजार 172 सैंपल संक्रमित मिले। राहत की बात यह है कि बुधवार को 622 लोगों ने कोरोना को हराया और ठीक हुए। इसे मिलाकर अब तक जिले में एक लाख 57 हजार 21 मरीज कोरोना से पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं।

सप्ताह में ऐसी रहा कोरोना का सफर

दिनांक - सैंपल जांचे - मरीज मिले - संक्रमण दर

13 जनवरी - 10469 - 1291 - 12.33

14 जनवरी - 10676 - 1343 - 12.57

15 जनवरी - 11209 - 1852 - 16.52

16 जनवरी - 11090 - 1890 - 17.04

17 जनवरी - 10820 - 2106 - 19.46

18 जनवरी - 11160 - 2047 - 18.34

19 जनवरी - 12577 - 3005 - 23.89

बुधवार को जिले में लगे 10 हजार से ज्यादा टीके

कोरोना टीकाकरण महाअभियान के तहत बुधवार को जिले में 10 हजार 334 टीके लगाए गए। 344 सत्रों के माध्यम से चले अभियान के तहत 3738 लोगों ने सतर्कता डोज भी लगवाई। सतर्कता डोज लगवाने में बुधवार को 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोग आगे रहे। इस आयु वर्ग के 1459 लोगों ने टीका लगवाया। बुधवार को 1308 स्वास्थ्यकर्मियों ने भी सतर्कता डोज लगवाई। 15 से 17 आयु वर्ग के 2650 बच्चों को बुधवार को कोरोना का पहला टीका लगाया गया। 18 से 44 आयु वर्ग के 1336 लोगों ने पहला और 1987 लोगों ने दूसरा टीका लगवाया।

बुधवार को लगाए 10334 टीकों में से 4050 पहला टीका, 2536 दूसरा टीका और 3738 सतर्कता डोज थीं। 62 लाख 73 हजार से ज्यादा टीकेजिले में अब तक 62 लाख 73 हजार से ज्यादा टीके लगाए जा चुके हैं। जिले के 29 हजार लोग हैं जिन्होंने सतर्कता डोज लगवा ली है। इंदौर जिले में 29 लाख से ज्यादा लोगों को कोरोना के दोनों टीके लगाए जा चुके हैं। हालांकि अब भी डेढ लाख से ज्यादा लोग हैं जिन्होंने बारी आने के बावजूद दूसरा टीका नहीं लगवाया है।

बच्चों के टीकाकरण में भी लापरवाही

तीन जनवरी से शुरू हुए 15 से अधिक आयु के बच्चों के टीकाकरण को लेकर लापरवाही जारी है। जिले में अब भी इस आयु वर्ग के 60 हजार से ज्यादा बच्चे हैं जिन्हें अब तक कोरोना का टीका नहीं लगा है। बुधवार को भी सिर्फ 2650 बच्चों को टीके लगाए जा सके जबकि तीन जनवरी को पहले दिन 50 हजार से ज्यादा बच्चों को टीका लगाया गया था। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक बच्चों के टीकाकरण में अब शिक्षा विभाग के अमले की भी मदद ली जाएगी।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local