Health Tips इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। गर्मी के तेवर अभी कम नहीं हुए और नौतपा शुरू हो चुका है ऐसे में सेहत का ध्यान रखना और भी आवश्यक हो जाता है। इस दौरान लू लगने की आशंका प्रबल हो जाती है। गर्मी के दिनों में हमारा पाचन तंत्र भी कमजोर हो जाता है और शरीर में पानी की कमी भी हो जाती है। इस परेशानी से बचने के लिए पानी का पर्याप्त मात्रा में सेवन बहुत जरूरी है।

आहार व पोषण विशेषज्ञ डा. शिवानी लोढ़ा के अनुसार सुबह-सुबह पानी पीना बहुत लाभदायक होता है और इस गर्मी में सुबह पानी पीने के लिए रात में ही पानी में लोंग और मिश्री या सौंफ और मिश्री डालकर रख दें और सुबह वह पानी पिएं। इससे पाचन तंत्र बेहतर होगा और शरीर में ठंडक भी बनी रहेगी। यह पानी शरीर में काफी हद तक पानी की कमी होने से भी रोकता है। पानी थोड़ी-थोड़ी देर में पीते रहें एक साथ बहुत पानी न पिएं।

पान पाचन तंत्र के लिए बेहतर

बोतलबंद पेय पदार्थ, चाय, काफी आदि कम से कम मात्रा में लें क्योंकि इनके सेवन से हमारे शरीर से शरीर से पानी का उत्सर्जन अधिक होता है और उस वजह से शरीर में पानी की कमी होने की आशंका बढ़ जाती है। पाचन तंत्र को बेहतर करने के लिए पान एक बेहतर विकल्प है। पान की पत्ता या साधारण तौर पर भी खा सकते हैं और बने हुए पान के रूप में भी। दिन में एक बार पान के पत्ते का सेवन किसी न किसी रूप में पाचन तंत्र के लिए लाभदायक होता है।

बेलपत्र है बहुत कारगर

सत्तू का सेवन बहुत कारगर होता है। सत्तू को पानी या छाछ में घोलकर पीने से शरीर को पोषक तत्व भी मिलेंगे और पेट में ठंडक भी रहेगी। इस मौसम में आने वाला एक फल कई गुणों से भरा है और वह फल है बिल्वपत्र का फल (बेल का फल)। बेल के फल में पोटेशियम, मैग्नेशियम व अन्य पोषक तत्व होते हैं। इसका शरबत एसिडिटी और गैस की समस्या से राहत दिलवाता है। दही को अपने आहार का हिस्सा बनाएं। दही साधारण रूप में या लस्सी, श्रीखंड के रूप में खाएं। इससे प्रोटीन भी मिलेगा और शरीर में ठंडक व स्फूर्ती भी बनी रहेगी।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close