इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। डायरेक्टोरेट ऑफ टेक्निकल एजुकेशन (डीटीई) की काउंसिलिंग शनिवार को जारी रही। इसमें देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी के इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलाॅजी (आइईटी) में बची दो सीट पर प्रवेश हो गए। वहीं एसजीएसआइटीएस में ईडब्लूएस की चार सीट बची हैं। इसमें प्रवेश के लिए कोई विद्यार्थी नहीं पहुंचा। अब चार और पांच दिसंबर को कॉलेज लेवल काउंसिलिंग (सीएलसी) का आखिरी राउंड होगा। दोनों कॉलेजों के अधिकारियों का कहना है कि डीटीई दूसरे राउंड की सीएलसी के बाद सीट कैंसल कराने के लिए वेबसाइट पर ऑप्शन शुरू कर सकता है। इसके बाद कुछ सीट कैंसल हो सकती हैं। ऐसा इसलिए हो सकता है क्योंकि आइआइटी, आइआइआइटी और एनआइटी जैसे संस्थानों में भी अभी काउंसिलिंग का दौर चल रहा है। ऐसे में कई विद्यार्थी जिन्हें उच्च संस्थानों में प्रवेश मिल जाएगा वे सीट कैंसल करा सकते हैं।

इस बार दोनों संस्थानों को बेहतर विद्यार्थी मिले

आइईटी के प्रशासनिक अधिकारी परेश आत्रे का कहना है कि जेईई की अच्छी रैंक वाले कई विद्यार्थियों ने संस्थान में प्रवेश लिया है। हर बार ऑल इंडिया रैंक एक लाख के आसपास पहुंच जाती है, लेकिन इस बार 86 हजार रैंक पर कंप्यूटर साइंस ब्रांच में आखिरी प्रवेश हुआ है। वहीं एजसीएसआइटीएस में भी इस बार जेईई में 18 हजार रैंक लाने वाले विद्यार्थियों ने भी प्रवेश लिया है। एसजीएसआइटीएस के काउंसिलिंग हेल्प केंद्र के प्रभारी भूपेंद्र सिंह मोरे का कहना है कि संस्थान में बायोमेडिकल की ईडब्लूएस की चार सीट बची हुई हैं। अब चार दिसंबर को ही पता लग पाएगा कि कितने विद्यार्थियों ने सीट कैंसल कराई है और कितनी नई सीट पर सीएलसी होनी है। हालांकि चार और पांच दिसंबर को होने वाली सीएलसी में दोनों प्रमुख संस्थानों की सीट फुल हो जाएगी। इसके बाद प्रवेश प्रक्रिया समाप्त हो जाएगी।

Posted By: dinesh.sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस