इंदौर। ओम विहार कालोनी में हुए कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला और पूर्व पार्षद नीता शर्मा के बीच हुए विवाद का मामला शनिवार को भी नहीं थमा। कालोनी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पूर्व पार्षद का पुतल जला दिया तो भाजपा महिला मोर्चा कार्यकर्ता थाने पर प्रदर्शन करने पहुंच गई। उन्होंने पुतला जलाने वालों पर प्रकरण दर्ज कराने की मांग की। एरोड्रम पुलिस ने बच्चा यादव और विशाल परिहार के खिलाफ धारा– 188 के तहत प्रकरण दर्ज कर दिया। यादव के खिलाफ धारा– 151 के तहत कारवाई करते हुए उसे जेल भेज दिया गया।

थाने पर हुई नारेबाजी

पुतला दहन से नाराज महिला नेत्रियों ने एरोड्रम थाने पर प्रदर्शन किया और विधायक शुक्ला के खिलाफ नारेबाजी भी की। पूर्व पार्षद नीता शर्मा ने शिकायती आवेदन दिया। इसके बाद पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया। इसके बाद महिला मोर्चा ने प्रदर्शन समाप्त किया। पूर्व पार्षद शर्मा का कहना है कि मैं रहवासियों की समस्या जानने गई थी। विधायक ने मेरे साथ बदलसूकी की। कार्यकर्ताओं ने मेरे वीडियो बनाए और वायरल किए। यह गलत बात है। मेरा पुतला भी जलाया गया।

कार्यकर्ता को जेल भेज दिया

कांग्रेस नेता यादव को जेल भेजे जाने की जानकारी मिलने के बाद विधायक संजय शुक्ला भी थाने पहुंचे और उन्होंने एफआइआर पर आपत्ति ली। वे कलेक्टर कार्यालय भी पहुंचे, लेकिन कोई अधिकारी नहीं मिला। विधायक का कहना है कि पुतला रहवासियों ने जलाया, लेकिन राजनीतिक दबाव के कारण पुलिस ने कांग्रेस नेता पर प्रकरण दर्ज कर जेल भेज दिया।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local