इंदौर। शहर को देश की पहली साइलेंट सिटी बनाने के लिए अधिकारी तैयारी में जुटे हुए हैं। इसके लिए एक नया नोटिफिकेशन भी जारी किया जाएगा। साइलेंट सिटी के लिए सरकारी प्रयासों के अलावा आम लोगों की मदद भी ली जाएगी। लोग विवाह समारोह में जाकर तेज म्यूजिक नहीं बजाने के लिए कहेंगे। वहीं सभी सरकारी अधिकारी अपने ड्राइवरों से कहेंगे कि वे बेवजह हॉर्न न बजाएं। शुक्रवार को कलेक्टर लोकेश जाटव की अध्यक्षता में साइलेंट सिटी बनाने को लेकर बैठक हुई। कलेक्टर ने बताया कि शहर के 39 क्षेत्रों को शांत परिक्षेत्र घोषित किया गया है। इन क्षेत्रों में प्रेशर हॉर्न, लाउड स्पीकर या ऐसे साधनों का उपयोग प्रतिबंधित रहेगा जिनसे ध्वनि प्रदूषण होता है।

शहर को साइलेंट सिटी ऑफ इंडिया बनाना भी इंदौरवासियों के जोश और सहयोग से ही संभव है। उन्होंने बताया कि औद्योगिक इकाइयों, विद्यालयों, कॉलेजों, ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन को इस अभियान के लिए जागरूक किया जाना जरूरी है। इसलिए इन्हें जल्द जोड़ा जाएगा। सामाजिक संगठनों, मैरिज गार्डन के प्रबंधकों से विशेष अपील की जा रही है कि वे इस मुहिम में हिस्सा लें। शहरवासी भी अपने आसपास के शादी समारोह एवं अन्य कार्यक्रमों में बजने वाले डीजे तथा तेज संगीत को जहां तक हो सके कम अथवा बंद करने का प्रयास करें।

ये हैं शहर के 39 साइलेंट जोन

एमवाय अस्पताल, जिला अस्पताल, सीएचएल अस्पताल, भंडारी अस्पताल, अरबिंदो अस्पताल, मानसिक चिकित्सालय बाणगंगा, चोइथराम अस्पताल, गोकुलदास अस्पताल, चाचा नेहरू एवं डेंटल अस्पताल, बॉम्बे अस्पताल, सिनर्जी अस्पताल, नोबल अस्पताल, पीसी सेठी अस्पताल, लाल अस्पताल, सेंट फ्रांसिस, राजश्री अपोलो अस्पताल, मेदांता अस्पताल, शैल्बी अस्पताल, अरिहंत अस्पताल, यूनिक अस्पताल, सुयश अस्पताल, कर्मचारी राज्य बीमा निगम अस्पताल, गुजराती गर्ल्स कॉलेज, देवी अहिल्या विश्वविद्यालय आरएनटी मार्ग, शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय भंवरकुआं, सिका स्कूल, प्रेस्टीज कॉलेज, होलकर साइंस कॉलेज, गोविंद राम सेकसरिया इंजीनियरिंग कॉलेज, जीजा माता गर्ल्स कॉलेज, नया गर्ल्स डिग्री कॉलेज, क्रिश्चियन कॉलेज, सत्य साईं स्कूल, कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय, नसिया क्षेत्र (मिशन अस्पताल से क्रिश्चियन कॉलेज सहित गुजराती कॉलेज एवं विद्यालय का मार्ग) सिरपुर तालाब क्षेत्र, गिटार चौराहा से साकेत चौराहे तक का मार्ग, पलासिया चौराहे से रीगल तिराहे तक का मार्ग, खंडवा रोड भंवरकुआं से आईटी पार्क चौराहा तक ।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket