कुलदीप भावसार, इंदौर, नईदुनिया, Indore Corona News कोरोना का दंश झेल रहे इंदौरियों के लिए पिछला सप्ताह राहतभरा रहा। इस दौरान संक्रमण की दर चार फीसद रही जो इसके पहले 10 प्रतिशत चल रही थी। यानी सप्ताहभर पहले तक जहां हर दसवां सैंपल पॉजिंटिव मिल रहा था वहीं अब हर 25वां सैंपल पॉजिटिव आ रहा है। पूरे सप्ताह में कोरोना से सिर्फ 15 लोगों की मौत हुई। पहली बार ऐसा हुआ कि लगातार तीन दिन ऐसे रहे जब शहर में इस बीमारी से एक भी मौत नहीं हुई। आठ दिन में 1854 पॉजिटिव मरीज बीमारी को हराकर डिस्चार्ज हो चुके हैं।

सप्ताहभर पहले तक शहर में औसतन सवा दो हजार सैंपल रोजाना जांचे जा रहे थे, लेकिन 21 अक्टूबर से राहत मिलना शुरू हुई और एक दिन में जांचे जाने वाले सैंपलों का औसत पांच हजार से ऊपर पहुंच गया। 21 अक्टूबर से 28 अक्टूबर के बीच 38688 सैंपल जांचे गए और इनमें से 1555 पॉजिटिव मिल। यानी संक्रमण की दर 4.09 फीसद रही। जबकि 24 मार्च से 20 अक्टूबर के बीच तीन लाख 56 हजार 319 सैंपल जांचे गए थे और इनमें से 32290 पॉजिटिव मिले थे, यानी संक्रमण की दर 10 फीसद के आसपास बनी हुई थी। यानी सप्ताहभर पहले तक हर दसवां सैंपल पॉजिटिव निकल रहा था।

चार में से तीन सैंपलों की हो रही रैपिड एंटीजन टेस्ट

सैंपलिंग की संख्या में आई बढ़ोतरी में रैपिड एंटीजन टेस्ट का भी बड़ा योगदान है। 21 से 28 अक्टूबर के दौरान जांचे गए 38688 सैंपलों में से 26335 रैपिड एंटीजन टेस्ट हैं। यानी हर चार सैंपलों में से तीन सैंपल रैपिड एंटीजन तरीके से जांचे जा रहे हैं।

Posted By: gajendra.nagar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस