इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि, Indore Coronavirus News। इंदौर वासियों के लिए लगातार तीसरा दिन सुकूनभरा रहा जब कोरोना से किसी भी व्यक्ति की मौत नहीं हुई। वही कोविड संक्रमितों की संख्या में लगातार कमी नजर आ रही है। हॉस्पिटलों में कोराना संक्रमित मरीजों की संख्या में कमी बनी हुई और जिन हॉस्पिटलों में मरीज भर्ती भी है वो गंभीर संक्रमण वाले है। बुधवार को कोरोना संदिग्ध 4854 मरीजों के सैंपल जांचे गए और 126 नए मरीज पॉजिटिव आए। बुधवार देर रात जारी बुलेटिन के मुताबिक अब तक 3 लाख 95 हजार 7 सैंपलों की जांच की जा चुकी हैं इनमें से 33845 पॉजिटिव पाए गए। बुधवार को 68 मरीज हॉस्पिटल से डिस्चार्ज किए गए। अब तक स्वस्थ होकर घर जाने वालों की संख्या 29 हजार 988 हो चुकी है। फिलहाल 3178 कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है। इंदौर में अभी तक कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या 679 हो चुकी है।

पॉजिटिव मरीजों व मरने वालों की संख्या में कमी

दिनांक - संक्रमित - मौत

20 अक्टूबर - 260 - 2

21 अक्टूबर - 242 - 3

22 अक्टूबर - 251 - 1

23 अक्टूबर - 271 - 6

24 अक्टूबर - 263 - 3

25 अक्टूबर - 142 - 2

26 अक्टूबर - 112 - 0

27 अक्टूबर - 148 - 0

28 अक्टूबर - 126 - 0

शुरुआती स्तर में जांच होने के कारण मरीजों की संख्या में भी कमी आई

अभी कोराना संक्रमित गंभीर मरीज नहीं आ रहे है, इस वजह से संक्रमण से मरने वालों की संख्या में भी कमी आई है। अभी जो मरीज आ रहे है उन्हें जल्द डायग्नोस्ट कर रहे हैं। फीवर क्लिनिक पर मरीजों की शुरुआती स्तर में जो जांच हो रही है। इसके कारण मरीजों की संख्या में भी कमी आई है।

डॉ प्रवीण जड़िया, सीएमएचओ

पब्लिक सुरक्षा के प्रति जागरूकता दिखाएंगी तो मरीजों होंगे कम

वर्तमान में कोविड इलाज हॉस्पिटल में लगभग 60 बेड खाली है। अभी मरीजों की संख्या कम होने की मुख्य यह है कि पब्लिक कोरोना के प्रति जागरूक हुई है। यदि लोग मास्क पहने व भीड़ भरे इलाकों में जाने से बचेगे तो यह संभावना है कि त्यौंहार के समय शहर में संक्रमित मरीजों संख्या में ओर भी कमी आएगी।- डॉ अमित मालाकार, कोविड नोडल अधिकारी, इंदौर

अभी ओर भी सावधानी बरतने की है जरूरत

कोरोना की लहर का अभी डाउनफाल चल रहा है लेकिन अभी भी हमें सावधानी बरतना होगी। यह संभावना है कि कोरोना की दूसरी लहर भी आए। इंदौर के लोगो के अगले दो महीनों तक ज्यादा सावाधानी बरतना होगी। एमआरटीबी, एमटीएच व सुपर स्पेशलिटी में अब मरीजों की संख्या कम हुई है, अभी यहां पर सिर्फ गंभीर रूप से संक्रमित मरीज ही भर्ती है। - डॉ पीएस ठाकुर, अधीक्षक एमवाय हॉस्पिटल

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस