Indore Coronavirus News Update : इंदौर। इंदौर के लिए मंगलवार का दिन भी राहत भरा रहा। कोरोना के मरीजों की संख्‍या में कल की तुलना में और कमी आई है। शहर में कोरोना के 27 पॉजिटिव मरीज मिले हैं। तीन और मौतों के साथ इस बीमारी से मरने वालों की संख्‍या अब 141 हो गई है। अब एक्टिव मरीज 1324 हो गए हैं। चार साल की शिवन्या और विराट सहित 90 लोग संक्रमण मुक्त होकर आज अस्‍पताल से घर लौट आए।

चार साल की शिवन्या और विराट सहित 90 लोग संक्रमण मुक्त

शहर के नेहरू नगर में हम जिस एरिया में रहते हैं, उसके आसपास लगातार कई पॉजिटिव मरीज मिल रहे थे। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने आकर परिवार के 10 सदस्यों की जांच की तो पता चला मेरे चार साल के भानजे-भानजी, मामी और मैं पॉजिटिव आए, वहीं 75 वर्षीय नाना को क्वारंटाइन किया गया। 15 मई को भर्ती होने के बाद 2 जून को हम डिस्चार्ज हुए, लेकिन नाना अभी भी दूसरे अस्पताल में क्वारंटाइन है।

यह बात मंगलवार को इंदौर के इंडेक्स मेडिकल कॉलेज से डिस्चार्ज हुई नेहरू नगर निवासी 18 वर्षीय निधि ने कही। उनके साथ उनकी चार साल की भानजी शिवन्या, चार साल का भानजा विराट, मामी पुष्पा सहित 21 मरीज कोरोना को हराकर अपने घर पहुंचे।

गोमा की फैल में रहने वाले पति-पत्नी तीन साल की बच्ची के साथ इंडेक्स मेडिकल कॉलेज से डिस्चार्ज हुए। बच्ची ने अपनी बातों से वार्ड में नर्सिंग स्टाफ व डॉक्टरों का दिल जीत लिया था। बच्ची की मां ने बताया कि 15 मई को पॉजिटिव आए, लेकिन संक्रमित कैसे हुए यह जानकारी नहीं। वह और बच्ची घर से बाहर नहीं जाते थे, लेकिन पति कभी-कभी मेडिकल दुकान, सब्जी लेने या दूध लेने बाहर जाते थे।

सब्जी-दालें भोजन में शामिल, 82 साल के गंगाराम हुए स्वस्थ

पंचम की फैल निवासी 82 साल के गंगाराम अरबिंदो अस्पताल से डिस्चार्ज होकर घर पहुंचे। दालें व दो प्रकार की सब्जी उनके भोजन में रोजाना शामिल रहती हैं। बेहतर रोग प्रतिरोधक क्षमता होने के कारण उन्होंने कोरोना पर विजय प्राप्त की।

उन्होंने बताया कि पहले सर्दी-खांसी और बुखार हुआ। डॉक्टर ने दवा लिखकर दी, लेकिन पांच दिनों तक राहत नहीं मिली। इसके बाद घर के पास लगे कैंप में दिखाया। 28 मई को भर्ती हुए थे। अस्पताल में मिले निर्देशों का पालन किया, समय पर गोली-दवाई ली व घर पहुंचे। उधर, अरबिंदो अस्पताल से 69 मरीज ठीक होकर घर पहुंचे। इनमें छह माह का एक बच्चा भी शामिल है। अस्पताल प्रबंधन की ओर से उन्हें सैनिटाइजर व मास्क का वितरण किया गया। मरीजों ने बेहतर इलाज से जल्द ठीक होने की बात कही।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना