इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इंदौर शहर में कोरोना का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। इसके बाद भी इंदौरवासी अपनी जिम्मेदारी नहीं समझ रहे हैं। न मास्क पहन रहे हैं, ना ही शारीरिक दूरी का पालन कर रहे हैं। ऐसे में उनका यह गैरजिम्मेदाराना रवैया शहर को बड़े संकट में डाल सकता है। शनिवार को शहर में 12,466 सैंपलों की जांच में 3,372 नए संक्रमित मिले। यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि ऐसे ही मामले बढ़ते रहे तो एक सप्ताह में कोरोना पीक पर होगा। शनिवार को जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, शहर में अब तक 33 लाख से ज्यादा सैंपलों की जांच हो चुकी है और 18,3551 लोग संक्रमित हो चुके है, जबकि 1,405 लोगों को कोरोना की वजह से अपनी जान भी गंवाना पड़ी। शनिवार को दो लोगों की मौत संक्रमण के कारण हुई। शहर में अभी तक 23,183 मरीजों का उपचार जारी है।

यह लापरवाही कब तक...

कोरोना के मामले विस्फोटक अंदाज में बढ़ रहे हैं, लेकिन फिर भी आम शहरी गंभीर नजर नहीं आते। बाजारों में मास्क नाक से नीचे लटके दिखते हैं। भले ही इस बार संक्रमण गंभीर नहीं है, लेकिन बीमार तो कर ही रहा है। ऐसे में सतर्कता जरूरी है।

मध्य प्रदेश में तेजी से बढ़ रही संक्रमण दर

11000 सैंपलों की जांच अटकी प्रदेश में शुक्रवार को 85,310 सैंपल लिए गए। इनमें 11 हजार सैंपलों की जांच नहीं हो पाई। अब इनकी जांच शनिवार को होगी, जिसकी रिपोर्ट मरीजों को रविवार को पता चल पाएगी।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local