Indore Crime News : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जयपुर के एक ठग ने बेरोजगार युवाओं को कनाडा के लक्जरी होटल में नौकरी का झांसा दिया और 40 लाख रुपये ऐंठ लिए।महीनों से चक्कर काट रहे युवा शुक्रवार को इंदौर पुलिस कंट्रोल रूम पहुंचे और अतिरिक्त पुलिस आयुक्त मनीष कपूरिया को धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज करवाई। मामले में एसीपी ने जोन-2 के डीसीपी संपत उपाध्याय को जांच के आदेश दिए हैं। जिस ठग की शिकायत की उस पर पूर्व में भी अपराध पंजीबद्ध हैं। पीड़ितों के आवेदन भी उसी प्रकरण में संलग्न कर लिए गए हैं। उसके खिलाफ धाराएं बढ़ाई जा रही हैं।

डीसीपी जोन-2 संपत उपाध्याय के मुताबिक आरोपित का नाम कृतार्त पारगी है। फरियादियों ने पुलिस को बताया कि करीब डेढ़ साल पूर्व आरोपित से संपर्क हुआ था। उसने कहा कि कनाडा में उसका होटल है जिसमें कारपेंटर, हाउस कीपिंग, एसी रिपेयर, पेंटर, सेफ और ड्राइवर की आवश्यकता है। उसने तगड़ी सैलरी का झांसा दिया और ऐसे युवक-युवतियों को बुलाया जो काफी समय से नौकरी तलाश रहे थे। आरोपित ने प्रोसेस के नाम पर करीब 40 लाख रुपये एकत्र किए और गायब हो गया।

"अफसरों के साथ छापा मारता हूं" बोलकर झांसा देता था ठग

पीड़ितों ने अफसरों को बताया कि पारगी शातिर ठग है। उसने पहले बेरोजगारों के दस्तावेज एकत्र किए। कई के आधार कार्ड, पैनकार्ड बनवाए। बाद में पासपोर्ट कार्यालय में आवेदन करवाया। पुलिस से सत्यापन भी करवाया। वह जब भी मिलता था भारत सरकार लिखी कार में ही आता था। उसने बताया था कि राजस्थान में आयकर अफसरों के साथ रहता है। बड़े-बडे भ्रष्टाचार उजागर करता है और खुद भी छापे मारने जाता है। उसकी बड़ी बड़ी बातें सुनकर लोग झांसे में आते गए और रुपये दे दिए। बाद में वह पलट गया और कहा कि होटल पिता के स्वामित्व का है। उन्होंने मुझे अधिकार देने से मना कर दिया है।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close