Indore Crime News : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। डेढ़ करोड़ रुपये की धोखाधड़ी में गिरफ्तार शासकीय महाविद्यालय के प्राध्यापक को पुलिस ने पांच दिन के रिमांड पर लिया है। आरोपित के बैंक खातों की जांच की जा रही है। उन लोगों के कथन लिए जा रहे हैं, जिन्हें प्रलोभन देकर शेयर बाजार में निवेश करवाया गया था।

स्कीम-54 निवासी प्राध्यापक अभय मुंगी के खिलाफ विजय नगर पुलिस थाना में धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज था। गुरुवार रात एमआइजी थाना पुलिस ने मुंगी को बड़वाह से गिरफ्तार कर विजय नगर थाना को सौंप दिया। शनिवार दोपहर आरोपित को न्यायालय में पेश कर पांच दिन के रिमांड पर ले लिया। टीआइ तहजीब काजी के अनुसार मुंगी फर्जी एडवाइजरी फर्म संचालक पंकज खानचंदानी के लिए काम करता था। आरोपित खरगोन, बड़वाह क्षेत्र के किसानों और व्यवसायियों को शेयर बाजार की योजना और लाभ का झांसा देकर पंकज से मिलवा देता था। इसके बदले उसे लाखों रुपये दलाली भी मिलती थी। प्रकरण दर्ज होने के बाद मुंगी ने अभिभाषक के माध्यम से अधिकारियों को आवेदन देकर कहा कि पंकज ने उसके साथ भी धोखा किया है।

10 हजार रुपये का इनाम था घोषित - तत्कालीन पुलिस अधीक्षक आशुतोष बागरी ने मुंगी के खिलाफ चालान प्रस्तुत करवाया और फरारी में इनाम घोषित कर दिया। कुछ दिनों पहले रूपल नामक महिला ने एमआइजी पुलिस थाना में आवेदन देकर कहा कि मुंगी ने उसके साथ भी धोखाधड़ी की है। सिपाही प्रवीण सिंह ने समझौता करवाने के लिए मुंगी को पकड़ लिया। देर रात टीआइ अजय वर्मा को पता चला कि मुंगी पर 10 हजार रुपये का इनाम घोषित है तो उसे विजय नगर पुलिस थाना को सौंप दिया।

छात्रा ने भी जान दी

इंदौर। चंदन नगर में 19 वर्षीय छात्रा ने फांसी लगाकर जान दे दी। पुलिस को घर से सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस के मुताबिक रामानंद नगर निवासी उर्वशी वर्मा के जान देने की जानकारी मिली थी। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव का पीएम करवाया है।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local