इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि, Indore Crime News। सात माह पहले ऑनलाइन धोखाधड़ी का शिकार हुए शुभम रेसीडेंसी बिजलपुर में रहने वाले अमय पुत्र रवींद्र काकरो को अब तक न्याय नहीं मिला है। सवा लाख रुपयों के लिए वे कई बार पुलिस के चक्कर काट चुके हैं। अमय ने राजेन्द्र नगर थाने में ऑनलाइन धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया था। डीआइजी को भी शिकायत की लेकिन आरोपित अब भी फरार हैं। अधिकारी आरोपितों को शीघ्र गिरफ्तार करने का आश्वासन देकर रवाना कर देते हैं।

पुलिस के मुताबिक अमय ने 17 फरवरी 2020 को आवेदन दिया था कि उनके डेबिड व क्रेडिट कार्ड से ऑनलाइन लेन-देन कर किसी अज्ञात व्यक्ति ने एक लाख नौै हजार 998 रुपये निकाल लिए हैं। लेन-देन पेटीएम के माध्यम से किया गया है। डेबिट कार्ड से 9999 रुपये और क्रेडिट कार्ड से 99999 हजार रुपये सहित अन्य राशि निकाल ली थी, जो कुल सवा लाख रुपये थी। मैजेस आया तब पता चला कि अकाउंट से रुपये निकल गए हैं। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था। मामला साइबर सेल और क्राइम ब्रांच दोनों के जिम्मे हैं।

पुलिस का कहना है कि मामले में खाता नंबर के आधार पर आरोपित की तलाश की जा रही है, अब तक मामले में न तो आरोपितों का पता चला है और न ही खाता धारकों का। अमय का कहना है कि धोखाधड़ी करके आरोपितों ने जो रुपये निकाले हैं, वे मेहनत की गाढ़ी कमाई थी, जो पाई-पाई करके जोड़ी थी। वे पुलिस से आशा लगाए बैठे हैं कि आरोपितों को गिरफ्तार कर, उनके रुपये लौटाए जाएं।

Posted By: gajendra.nagar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस