इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि,Indore crime news। कोरोना संक्रमित मरीज को भर्ती न करने पर कुछ लोगों ने पल्स अस्पताल एवं ट्रामा सेंटर में जमकर उत्पात मचाया। अस्पताल को जलाने की धमकी दी और संचालक डा.इरफान कुरैशी का चेंबर तोड़ दिया। पुलिस ने यूसुफ रैती सहित अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया है।

जूनी इंदौर थाना पुलिस के मुताबिक धार कोठी निवासी डा. इरफान पुत्र शफीक कुरैशी ने रिपोर्ट लिखवाई कि उनका पल्स अस्पताल एवं ट्रामा सेंटर है। 30 अप्रैल को कुछ लोग एक मरीज को गंभीर अवस्था में लेकर आए थे। ड्यूटी डाक्टर समीर ने मरीज की हालत देखते ही कहा कि उसे आइसीयू की जरुरत है ताकि तत्काल वेंटिलेटर मिल सके। वेंटिलेटर न मिलने पर मरीज की जान भी जा सकती है। कुछ देर बाद यूसुफ साथियों के साथ अस्पताल में घुस गया और भर्ती करने के लिए दबाव बनाने लगा। हंगामा होने पर डाक्टर कुरैशी ने जूनी इंदौर थाना पर काल कर पुलिसवालों को बुला लिया। एसआइ के सामने ही मरीज को देखा और एम्बुलेंस की व्यवस्था की। इस दौरान रैती व उसके साथियों ने डाक्टर की हत्या की धमकी दी और कहा अस्पताल में आग लगा दूंगा। उसने डाक्टर कुरैशी के चेंबर में लात मार कर तोड़फोड़ भी कर दी। डाक्टर कुरैशी से सीसीटीवी फुटेज और लिखित आवेदन लेकर मंगलवार रात पुलिस ने आरोपितों पर केस दर्ज कर लिया।

युवक के साथ मारपीट

एरोड्रम थाना पुलिस ने धीरज प्यारेलाल मालवीय निवासी श्री लक्ष्मीनगर की शिकायत पर जयेश नीमा और जीतू नीमा के खिलाफ केस दर्ज किया है। आरोपितों ने धीरज के साथ मारपीट की और घर के कांच फोड़ दिए।

Posted By: gajendra.nagar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags