Indore GRP : इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ट्रेनों में महिलाओं के पर्स चुराने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के चार आरोपितों को जीआरपी इंदौर ने गिरफ्तार किया है। उनके पास से सोने के आभूषण सहित एक कार पुलिस ने जब्त की है।आरोपित कार से स्टेशन पहुंचते थे और चोरी कर फिर कार से रवाना हो जाते थे। साल 2020 से पुलिस को गिरोह की तलाश थी। आरोपितों के स्थानीय मददगारों के बारे में भी पुलिस जानकारी जुटा रही है।

एसपी रेल निवेदिता गुप्ता के मुताबिक महाराष्ट्र के गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है। कुछ आरोपित अभी भी फरार हैं। आरोपित पुणे से कार से मध्य प्रदेश में आते थे। रेलवे स्टेशन के बाहर गाड़ी खड़ी कर ट्रेनों में महिलाओं को टारगेट कर उनके पर्स चुरा लेते थे। घटना के बाद बदमाश कार से वापस भाग जाते थे। पकड़े गए आरोपितों में किरण पुत्र भगत सिंह वानी 47 साल निवासी केशव नगर पुणे, विक्की पुत्र राजू शौलके 32 साल निवासी केशव नगर पुणे, किशोर पुत्र गेढ़ीराम परमार उम्र 46 साल निवासी केशव नगर पुणे और धीरज पुत्र अंबर वानी उम्र 34 साल निवासी खारडी पुणे है।

पर्स में रखे थे जेवर और रुपये - मार्च 2020 में कोच्चिवली एक्सप्रेस में फरियादी जोसेफ एंथोनी परिवार सहित आलप्पुषा से इंदौर की यात्रा कर रहे थे। उज्जैन रेलवे स्टेशन पर अज्ञात बदमाश ने फरियादी की पत्नी का पर्स चुरा लिया। उसमें सोने की एक चेन, सोने की दो अंगूठी, सोने की एक चूड़ी, सोने की कान की तीन बाली, एक मोबाइल रखा था। वहीं 2 मई 2022 को जयपुर चेन्नई एक्सप्रेस में फरियादी दीपक मोहता पत्नी सहित जयपुर से नागपुर की यात्रा कर रहे थे। शुजालपुर रेलवे स्टेशन के पहले अज्ञात व्यक्ति ने फरियादी की पत्नी का पर्स चुरा लिया। उसमें सोने का कड़ा डायमंड लगा हुआ, सोने के कान के टाप्स, सोने की अंगूठी व 35 हजार रुपये थे।

सीसीटीवी फुटेज बने मददगार - मामले में केस दर्ज कर जांच शुरू की गई। सीसीटीवी फुटेज की जांच में शुजालपुर प्लेटफार्म नंबर एक के बाहर कुछ संदिग्ध व्यक्ति नीले रंग की कार में जाते दिखे। इसके बाद उज्जैन शहर में आने-जाने वाले टोल नाकों पर फास्टैग के माध्यम से भुगतान में उपयोग होने वाले मोबाइल नंबर से साइबर शाखा ने सीडीआर व लोकेशन निकाली और आरोपितों को ट्रेस किया। आरोपितों से दोनों चोरी की घटना का पर्दाफाश हो गया व अन्य चोरी की घटनाओं को लेकर भी पूछताछ की जा रही है। आरोपितों के साथी फरार हैं, उनके बारे में भी पुलिस जानकारी जुटी रही है। आरोपित अलग-अलग कार का इस्तेमाल चोरी के लिए करते थे।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close